Friday, December 4, 2020 at 10:03 AM

कांवड़ पटरी मार्ग चौड़ीकरण में घटिया सामग्री लगाने का आरोप

 

रुडकी (देशराज पाल)। करोड़ों की लागत से कांवड़ पटरी मार्ग के चौड़ीकरण का कार्य महाकुंभ 2021 की निधि से कराया जा रहा है। आरोप है कि कार्य मानकों के अनुरूप नहीं हो पा रहा है। भाकियू के साथ ग्रामीणों ने मेला अधिकारी से पूरे प्रकरण की जांच की मांग की है। राय की सीमा से लेकर हरिद्वार तक कांवड़ पटरी का चौड़ीकरण सरकार द्वारा कराया जा रहा है। यह कार्य कुंभ निधि 2021 से हो रहा है। कांवड़ पटरी मार्ग के चौड़ीकरण के कार्य में गड़बड़ी के आरोप लगे हैं। मोहमदपुर पावर हाउस तक कुछ हिस्सा पहले ही बन चुका है। इससे आगे उत्तर प्रदेश की सीमा तक करीब दो किलोमीटर तक सड़क पर कोई भी कार्य नहीं हुआ है सड़क में गहरे गड्ढे बने हुए हैं। अब दूसरे चरण का कार्य मंगलौर गंगनहर पुल से रुड़की की ओर शुरू किया गया है। इस कार्य पर ग्रामीणों तथा भारतीय किसान यूनियन द्वारा सवाल उठाया गया है। भाकियू के चौधरी अनुज कुमार ने कहा कि मिट्टी के ऊपर सीधे तारकोल डाला जा रहा है। इससे सड़क की मजबूती नहीं होगी। ग्रामीण राधेश्याम, राजपाल सिंह, समर सिंह, आदित्य, ओमपाल आदि का कहना है कि जिस प्रकार से सड़क बनाने में लापरवाही बरती जा रही है उसकी जांच होनी चाहिए। निर्माण कंपनी के जेई सुरेंद्र सारस्वत का कहना है कि काम मानकों के अनुरूप किया जा रहा है। यदि कहीं पर कोई गड़बड़ी है तो उसको दुरुस्त कराया जाएगा। ग्रामीणों की शिकायत पर ध्यान लिया जा रहा है।

loading...
Loading...