Thursday, January 21, 2021 at 6:14 AM

गौ सेवा से ही अब सभी को सुख, शांति और स्वास्थ्य मिलेगा : अतुल सिंह

हाइलाइट्स:

# तीन गौशालाओं में विधिवत गौ पूजन हुआ
# कान्हा उपवन गौशाला का लोकार्पणन्न संपन्न
# स्वच्छता अभियान के तहत शौचालय का उद्घाटन
# उत्तर प्रदेश को गौशाला मॉडल बनाने का संकल्प

पडरौना/रामकोला(उत्तर प्रदेश)

पूर्वी उत्तर प्रदेश में  गोरखपुर मंडल  का नाम  अब अक्सर लिया जाने लगा है क्योंकि  विकास कार्यों में पिछड़ा  यह भूभाग  चौमुखी विकास की मुख्यधारा में  तेजी से आगे बढ़ रहा है।  यहां के सबसे लोकप्रिय  राजनेता  एवं  चर्चित किसान  जसवंत सिंह उर्फ अतुल सिंह  सुबह से शाम की अपनी दिनचर्या  लोगों की कठिनाइयों को सुनने और उसे दूर करने में  जहां व्यस्त रहते हैं, वहीं पर वह किसानों , मजदूरों,  युवाओं और महिलाओं से लेकर व्यापारियों तक,सभी को  उत्साहित करने  के लिए  कोई कसर नहीं छोड़ते और उनके साथ प्रतिपल खड़े रहते हैं।  इस बार गोपाष्टमी  के अवसर पर  लगातार  4 कार्यक्रमों का  उद्घाटन कर  लोगों से अपील किया कि  गौ सेवा से  खेती – किसानी और उद्योग को  जोड़ना जरूरी है । रामकोला स्थित कान्हा उपवन गौशाला के उद्घाटन के अवसर पर कहा कि  गौ सेवा से ही सभी को  सुख शांति  और स्वास्थ्य जीवन प्राप्त होगा क्योंकि  गौ माता जहां एक तरफ पौष्टिक भोजन  मुहैया कराती है वहीं पर  रोजगार के नए -नए साधन उपलब्ध कराती है।उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश गौ सेवा में सबसे लोकप्रिय है ।  इसलिए हमें प्रदेश को मॉडल राज्य बनाना होगा और इसके लिए दिन – रात एक कर देना होगा ।

यह बता दें कि अतुल सिंह को उत्तर प्रदेश सरकार में राज्य मंत्री स्तर का कार्य-भार सौंपते हुए उन्हें उत्तर प्रदेश गौ सेवा आयोग का उपाध्यक्ष नियुक्त किया है। गौ सेवा के लिए समर्पित अतुल सिंह शहर के कान्हा उपवन गौशाला का बतौर मुख्य अतिथि लोकार्पण किया । इस अवसर पर गौ माता की पूजा-अर्चना के बाद  गायों तथा बछड़ों को चना तथा गुड़ खिलाएं ।  इसके बाद गोवत्सों  को सहलाया  और दुलार किया  तथा गौशाला कर्मियों को उनके बेहतर देखभाल की  सलाह दी । उन्होंने बताया कि इस गौशाला के निर्माण की पहली किस्त 2017 में भेजी गई थी लेकिन आखिरी किस्त इस साल आई है । बड़े तेजी के साथ निर्माण कार्य पूरा कर गौशाला गौ सेवा को समर्पित कर दिया गया।  वह उपस्थित जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जीवन के भवसागर को पार करने के लिए गौ सेवा बहुत जरूरी है ।  इस बात की चर्चा  हमारे धार्मिक  एवं पौराणिक  ग्रंथों की कथाओं में  वर्णित की गई है जो  जीवन के यथार्थ बताता है क्योंकि  गौ सेवा का परिणाम हमें तुरंत मिलने लगता है।  हमारी संस्कृति की रक्षा के लिए  हम सभी को आगे आना चाहिए ।  गौ सेवा एक ऐसा माध्यम है जिससे हमारे रीति -रिवाज ,लोक संस्कृति, पर्यावरण , खेती-बाड़ी और व्यापार सभी कुछ विशेषताएं इसमें समाहित है ।  उन्होंने  उत्तर प्रदेश के  यशस्वी मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ, जिन्हें   अति सम्मान से “महाराज जी” के नाम से संबोधित करते हैं , उनकी चर्चा करते हुए बताया कि  अगर  हमारे मुख्यमंत्री  यहां भ्रमण करते हैं तो  हमारे उन्नत कार्य को  देखकर  आनंदित होऐसा कार्य करना चाहिए ताकि उन्हें आदर्श गौ सेवा प्रकल्प की अनुभूति हो सके। इसलिए गौ सेवा के क्षेत्र में सभी को योगदान देना चाहिए ।  हमारा देश प्राकृतिक खेती के साथ-साथ सुरक्षित खाद्यान्न उत्पादन कर सभी को खुशहाल रखने में कामयाब हो।

गोपाष्टमी के पावन अवसर पर  जसवंत सिंह उर्फ अतुल सिंह  बहुत ही उत्साहित थे  लोग बताते हैं कि  उनकी  दिनचर्या अत्यंत व्यस्त और  लोगों के  परेशानियों को सुलझाने के लिए वह सब कुछ भूल जाते हैं।  ऐसा ही कुछ हुआ इस बार  गोपाष्टमी आयोजन के अवसर पर  क्योंकि  1 दिन में चार कार्यक्रम  आयोजित किए गए थे ।  पहले कार्यक्रम के तहत  रामकोला शहर के दूसरी गौशाला के उद्घाटन किया उसके  बाद  अन्य कार्यक्रम के लिए जा सके ।दूसरे कार्यक्रम में जानेगोपाष्टमी  पहले  आयोजन समिति ने उन्हें  गौशाला परिसर का अवलोकन कराया  जहां उन्हें  गौ सेवा के तमाम सुविधाओं की जानकारी दी गई।  इसके बाद उन्होंने उपस्थित जनसभा को संबोधित किया  और सभी से आग्रह किया कि  गौ सेवा का ऐसा कार्य करें जिससे  इसे देशभर में एक मॉडल के रूप में  लोग सीखने आए । गौशाला के लोकार्पण के अवसर पर कई वरिष्ठ अधिकारी एवं प्रशासक मौजूद थे।जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी से लेकर स्थानीय पशु चिकित्सा अधिकारी,पुलिस प्रशासन और जनपद प्रशासन के बड़े अधिकारी भी इस कार्यक्रम में मौजूद थे। कार्यक्रम में विश्व हिंदू महासंघ के पदाधिकारियों के साथ साथ स्थानीय जनप्रतिनिधि तथा तमाम संस्थाओं के कार्यकर्ता शामिल हुए।

उत्तर प्रदेश गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष ने गोपाष्टमी के अवसर पर श्री पंजरापोल गौशाला पर भी गो पूजन किया और गाय तथा बछड़ों को गुड़ तथा केला खिलाया । गौ-पूजा के बादगौ भक्तों में  प्रसाद वितरित किया गया । उपाध्यक्ष ने गौशाला में उपस्थित गौ भक्तों को संबोधित करते हुए कहा कि गाय मां के समान है । गाय के द्वारा प्रदत्त सभी उत्पाद हमारे जीवन के लिए पोषण प्रदान करते हैं । इसलिए गाय की जितनी भी सेवा सुरक्षा हो सके करनी चाहिए । कार्यक्रम के अंत में किसानों के कल्याण के लिए शहर के चीनी मिल यार्ड  में 10 सीट की शौचालय भी उद्घाटन किया और बताया कि स्वच्छता अभियान को बढ़ावा दिया जाना चाहिए । शौचालय निर्माण के अभियान से लोगों को स्वास्थ्य एवं सहूलियत मिलेगी ।

****

Loading...