झाँसी

झांसी नगर आयुक्त की गुंडागर्दी : मामूली बात पर तीन कर्मचारियों को सरेराह पीटा,

इरशाद मंसूरीझांसी। थाना नवाबाद अंतर्गत नगर निगम कार्यालय में उस समय अफरा तफरी मच गई जब झांसी के नगर आयुक्त नगर निगम में घुसते ही अचानक अपनी गाड़ी से उतरे और नगर निगम के अंदर खड़े तीन कर्मचारियों को गाली बकते हुए थप्पड़ मार दिए। जिससे तीनों कर्मचारियों में रोष हो गया और घटना की जानकारी उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारियों के माध्यम से जिला प्रशासन को दी।

पूरा मामला आज झांसी नगर निगम में सुबह करीब 10:00 बजे का है जब नगर निगम के स्वास्थ विभाग में तैनात चपरासी राकेश कुमार अपने ऑफिस के बाहर खड़े हुए थे। आरोप है के इसी दौरान झांसी नगर निगम के नगर आयुक्त प्रताप सिंह भदौरिया अपनी गाड़ी से गुज रहे थे। इस दौरान उन्होंने स्वास्थ विभाग के सामने खड़ी कुछ गाड़ियों को देखा और आग बबूला हो गए। प्रताप सिंह भदोरिया ने अपने ड्राइवर से गाड़ी रोकने को कहा इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता प्रताप सिंह भदौरिया राकेश कुमार के पास आए और गाली बकते हुए थप्पड़ मार दिया। इसके बाद उन्होंने समीप खड़े बिजली विभाग के कर्मचारी व गार्ड को भी बुलाया और उनको भी गाली बकते हुए गाड़ियां हटाने के लिए कहा। इस घटना से तीनों कर्मचारियों में रोष पैदा हो गया और उन्होंने घटना की जानकारी अपने विभाग के अधिकारियों के अलावा जिले के उच्च अधिकारियों को भी दी। खबर लिखे जाने तक झांसी के सीएमओ मामले की गंभीरता को देखते हुए नगर निगम कार्यालय जा पहुंचे जहां दोनों पक्षों को ले कर बातचीत का दौर जारी है।

दरअसल झांसी के नगर आयुक्त प्रताप सिंह भदौरिया का यह पहला मामला नहीं है। विभागीय सूत्रों की माने तो नगर आयुक्त प्रताप सिंह भदौरिया किसी भी अधिकारी और कर्मचारी से तमीज से बात करने की बजाय गाली से ही बात करते हैं। इतना ही नहीं झांसी के नगर आयुक्त प्रताप सिंह भदौरिया के ऊपर दुर्व्यवहार के साथ-साथ भ्रष्टाचार के भी आरोप लगना शुरु हो गए हैं। सूत्रों के मुताबिक प्रताप सिंह भदौरिया नियमों को ताक पर रखकर विभाग में एकछत्र राज लाने की इच्छा रखते है।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button