Monday, January 18, 2021 at 1:13 PM

टीम इंडिया से दहशत में हैं ये ‘कंगारू’ बल्लेबाज…

सिडनी । चौथा मैच गाबा में खेला जाएगा। ब्रिस्बेन में 15 जनवरी से होने वाले मुकाबले से पहले सिडनी में जो टेस्ट मैच हुआ और टीम इंडिया ने इस मैच में जो प्रतिबद्धता दिखाई वो कमाल की थी। एक वक्त ऐसा लग रहा था कि, टीम इंडिया शायद ही ये मैच बचा पाए, लेकिन भारतीय बल्लेबाजों ने कमाल कर दिया और मैच को ड्रॉ करा लिया। कंगारू टीम इस मैच में पूरी तरह से जीतने की स्थिति में थी, लेकिन टीम इंडिया ने उनके इस अरमान पर पानी फेर दिया।

बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन का कहना है कि, सिडनी टेस्ट मैच में जिस तरह से टिककर भारतीय बल्लेबाजों ने बल्लेबाजी की उस हालात में हम कुछ ज्यादा नहीं बदल सकते थे, लेकिन उन्होंने कहा कि, हम चौथे टेस्ट मैच में टीम इंडिया को हराकर टेस्ट सीरीज अपने नाम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। सिडनी टेस्ट मैच में 91 और 73 रन की शानदार पारी खेलने वाले लाबुशेन ने कहा कि, हमने सिडनी टेस्ट ड्रॉ खेला, लेकिन हम जीतने के लिए यहां हैं। अब हमें गाबा जाना है और जीतना है। हमारे लिए कुछ भी नहीं बदल है और ये बस अपना फोकस बदलने का मामला है और हमें ये सुनिश्चित करना है कि, गाबा में हम उन्हें हराएंगे।

सिडनी टेस्ट मैच में हनुमा विहारी (161 गेंद में नाबाद 23) और आर अश्विन (128 गेंद में नाबाद 39) ने पांचवें दिन पूरे तीसरे सत्र में बल्लेबाजी की जबकि रिषभ पंत (118 गेंद में 97 रन) और चेतेश्वर पुजारा (205 गेंद में 77 रन) ने 148 रन जोड़े जिससे भारत ने 131 ओवर में पांच विकेट पर 334 रन बनाए। लाबुशेन ने कहा कि आस्ट्रेलिया को पांचवें दिन की पिच से थोड़ी अधिक मदद की उम्मीद थी लेकिन उन्होंने क्रीज पर डटे रहकर मैच ड्रॉ कराने का पूरा श्रेय भारतीय बल्लेबाजों को दिया।

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर पांचवें दिन की पिच पर आम तौर पर अधिक टूट-फूट होती है थोड़ा अधिक असमान उछाल होता है लेकिन अगर कोई टीम 131 ओवर खेल जाए तो उन्हें श्रेय जाता है। लाबुशेन ने कहा,उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की, वे डटे रहे और मुझे लगता है कि इसमें हम अधिक कुछ नहीं बदल सकते थे। हमारे गेंदबाजों ने हर तरह से कोशिश की, लेकिन वो टीम इंडिया को ऑल आउट नहीं कर पाए।

यह भी पढ़ें: हर तीन महीने में आंखों की जांच कराती है भारतीय टीम : बीसीसीआई अधिकारी

loading...
Loading...