Tuesday, January 19, 2021 at 10:56 AM

स्थानीय भाषाओं में छपने वाले अखबारों की भूमिका आज भी वैसी ही – मोदी

 

चेन्नई। पीएम यहां ने यहां तमिल अखबार थांती की 75वीं वर्षगांठ समारोह में भी हिस्सा लिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि मीडिया को अपनी विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए अतिरिक्त प्रयास करने होंगे।

पीएम ने कहा कि आज अखबार केवल खबरें ही नहीं देता, हमारे विचारों को भी दिशा प्रदान करता है। यह दुनिया की ओर एक खिड़की की भांति है। बड़े रूप में देखा जाए तो मीडिया का मतलब समाज को बदलना है, इसलिए ही हम मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहते हैं।

पीएम ने अंग्रेजी शासन को याद करते हुए कहा कि वो लोग भारतीय वर्नाकुलर मीडिया से डरे हुए थे। इसी का नतीजा था कि स्थानीय समाचार पत्रों पर नकेल कसने के लिए ही 1878 में स्थानीय मीडिया एक्ट लाया गया था। स्थानीय भाषाओं में छपने वाले अखबारों की भूमिका आज भी वैसी ही है जैसी उस समय में थी।

पीएम ने आगे कहा कि मीडिया को अपनी विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए अतिरिक्त प्रयास करने होंगे। मीडिया में स्वस्थ्य प्रतिस्पर्धा देश के स्वस्थ्य लोकतंत्र के लिए अच्छी है। संपादकीय आजादी का उपयोग जन समान्य के लिए सोच समझकर किया जाना चाहिए। लिखने की आजादी की मतलब यह नहीं कि तथ्यात्मक गलतियों की आजादी मिली है।

चेन्नई में भारी बारिश और बाढ़ के हालातों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां पहुंचे। पीएम ने अधिकारियों से बारिश को लेकर चर्चा की और सभी संभव मदद देने का आश्वासन दिया।

पीएम यहां कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के अलावा डीएमके के वरिष्ठ नेता एम करुणानिधि से मुलाकात करेंगे। भाजपा और डीएमके दोनों ने इसकी पुष्टि की है। पीएम दोपहर 12.30 बजे मुलाकात के लिए पहुंचेंगे।

बता दें कि करुणानिधि अक्टूबर 2016 में बीमार हो गए थे जिसके बाद उन्हों दो बार अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। इसके अलावा मोदी पीएमओ के पूर्व अधिकारी डॉ. टीवी सोमनाथन की बेटी की शादी में भी शरीक होंगे।

 

loading...
Loading...