Monday, March 8, 2021 at 9:26 PM

ट्रंप के विवादित फैसलों को पलटेंगे बाइडेन , मुस्लिम देशों पर लगा प्रतिबंध होगा रद्द!

वॉशिंगटन: अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन सत्ता संभालने के तुरंत बाद ल्डडोना ट्रंप प्रशासन द्वारा लिए गए कुछ विवादित फैसलों को पलट सकते हैं. जानकारी के मुताबिक, बाइडेन ने अपने कार्यकाल के पहले 10 दिनों में उठाए जाने वाले कदमों की सूची तैयार कर ली है और इसमें मुस्लिम देशों पर लगे प्रतिबंध रद्द करना शामिल है. बाइडेन 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ ग्रहण करेंगे और इसी दिन वह कई महत्वपूर्ण फैसलों पर हस्ताक्षर कर सकते हैं.
व्हाइट हाउस के नए चीफ ऑफ स्टाफ रोन क्लीन ने बताया कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) अपने कार्यकाल के पहले दिन कोरोना, आर्थिक संकट, पर्यावरण और नस्लीय असमानता से निपटने के लिए करीब एक दर्जन प्रस्तावों पर हस्ताक्षर करेंगे. इनमें 7 मुस्लिम देशों पर लगे यात्रा प्रतिबंध रद्द करना और अमेरिका को पेरिस समझौते में वापस लाना शामिल है. बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप ने 7 मुस्लिम देशों पर प्रतिबंध लगाने के साथ ही 2015 में हुए पेरिस जलवायु समझौते से यूएस को बाहर कर लिया था. इन फैसलों को उनके समर्थकों ने ‘ट्रंप कार्ड’ करार दिया था.
उधर, डोनाल्ड ट्रंप और बाइडेन के बीच की तल्खी की वजह से एक और परंपरा टूट सकती है. 1952 से यह परंपरा चली आ रही है कि मौजूदा राष्ट्रपति की पत्नी नए राष्ट्रपति की पत्नी को चाय पर बुलाकर फर्स्ट लेडी की अपनी पदवी का हस्तांतरण करती हैं. इसे टी-एंड-टूर कहा जाता है, लेकिन इस बार ऐसा होने की संभावना बेहद कम नजर आ रही है. क्योंकि ट्रंप की पत्नी मेलानिया ने इस संबंध में नवनिर्वाचित राष्ट्रपति बाइडेन की पत्नी जिल बाइडेन से संपर्क नहीं किया है.

बाइडेन के शपथ ग्रहण समारोह पर मंडरा रहे हिंसा के खतरे को देखते हुए फेसबुक ने पूरे देश में हथियारों, उससे जुड़े सामानों, सुरक्षात्मक उपकरणों के विज्ञापनों पर तत्काल रोक लगा दी है. ये रोक शपथ ग्रहण के दो दिन बाद तक जारी रहेगी. कंपनी ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि हम पहले से ही हथियार, गोला-बारूद और साइलेंसर से जुड़े विज्ञापनों पर रोक लगाते रहे हैं. अब हम हथियारों के सहायक उपकरण के विज्ञापनों पर भी रोक लगा रहे हैं.

अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियों को आशंका है कि डोनाल्ड ट्रंप समर्थक कैपिटल हिल हिंसा की तरह किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं. एफबीआई ने चेतावनी जारी की है कि वॉशिंगटन में होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में हथियारबंद प्रदर्शनकारी बाधा उत्पन्न कर सकते हैं. इसके मद्देनजर राजधानी को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. यहां 25,000 से अधिक नेशनल गार्ड्स तैनात किए गए हैं. वहीं, संसद भवन के पास से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने उससे समारोह का फर्जी पास, बंदूक और 500 गोलियों बरामद की हैं.

Loading...