हरदोई

अपात्रो को रिश्वत लेकर आवास देने की डीएम से की शिकायत

हरदोई।11नवम्बर ब्लॉक टोडर पुर की ग्राम पंचायत उमरौली में रिश्वत के चक्कर मे हो रहे आवासों में फेरबदल की शिकायत की थी जिसमें महिंदर पुत्र लोचन का आवास महिंदर पुत्र राजेंद्र को दिया गया।छोटे लाल पुत्र द्वारिका है आवास मिला छोटेलाल पुत्र प्यारीप्रसाद के नाम का जबकि छोटेलाल का पक्का मकान है। वीरेश पुत्र मथुरी  सुन्दरपुरमेंतथा ताहर पुत्र शिवकुमार का शाहाबाद में मकान हैफिर भी  आवास मिल चुकेहै इंजीनियर अमरपाल जी ने जाँच कीजबकि प्रधान और सचिव साथ मे ही मौजूद थे उन्ही के विरुद्ध जाँच करनी थी। ।जब जांच में फर्जीवाड़ा मिला पक्के मकान मिले तो पैसा बापस करने को कहा तथा जाँच रिपोर्ट पर प्रधान तथा  सचिव के होते हुए भी  श्रीपाल और शारदा 2लोगों ने  गवाही की थी । किन्तु उस रिपोर्ट को बदल दिया गया उसका खुलासा तब हुआ जब 4या 5दिन बाद जांच अधिकारी अमरपाल को फोन किया तो बताया कि पैसा बापस जाना था किन्तु मानवता के आधार पर मैंने बापसी की संस्तुति नही की है अब आगया है तो मिल जाने दो पहले न मिलता तो ठीक है।कोई और अधिकारी बापस कराये ठीक हैमैं तो बहुत छोटा अधिकारी हूँ।मैंने बापसी कीसंस्तुति नही की है। प्रश्न ये उठता है कि क्या जांच अधिकारी मानवता के आधार पर फैसला करेंगे । ब्लॉक टोडर पुर की ग्राम पंचायत उमरौली में पात्र का फैसला कमीशन से होता है रिश्वत दो तो पात्र हो नही तो आवास दूसरे को मिल जाएगा।इस प्रकरण की कई शिकायतें बीडीओ टोडर पुर दीन दयाल जी को भी दी गयी किन्तु बह जांच अधिकारी सचिव को ही बनाते है प्रधान और सचिव का बराबर का हिस्सा है सचिवकी मिली भगत से ही आवासों में फिर बदल हो रहा है अगर ऐसा होता रहा तो जनता का न्याय पर से भरोसा उठ जाएगा।कल्लू से सलाह ली। इसके बाद बहनोई छोटक्के पाल की मदद से सुपारी किलर जमाल से संपर्क किया। जमाल पचास हजार रुपये में हत्या करने के लिए तैयार हो गया। जमाल को दस हजार रुपये बतौर पेशगी दिए। दुर्गेश ने बताया कि 13 अक्तूबर को जमाल उसके बहनोई के साथ डर्रा आया। उसने (दुर्गेश) ने बाथरूम जाने के बहाने से घर का दरवाजा खोल दिया। देर रात जमाल ने छोटक्के के साथ घर में घुसकर चारपाई पर सो रहे शिवकुमार की गोली मारकर हत्या कर दी और भाग गया। श्यामबाबू शुक्ला ने बताया कि दुर्गेश और उसके बहनोई को जेल भेज दिया गया6 है। बताया कि सुपारी किलर जमाल निवासी पियरा थाना6 मितौली जनपद लखीमपुर खीरी, साजिश में शामिल शिवकुमार की पत्नी नन्ही व कल्लू कहार पुत्र गजोधर निवासी डर्रा थाना पिहानी अभी फरार हैं। उनकी तलाश की जा रही है।
loading...
Loading...

Related Articles