महोबा

पुजारी ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में जनिये क्यों लिखा योगी का नाम

महोबा। यूपी के महोबा में एक पुजारी ने शनिवार रात को पेड़ से लटककर फांसी लगा ली। मौके पर पहुंची पुलिस को उसके पास से मिले सुसाइड नोट में योगी सरकार को अपनी मौत का जिम्मेदार बताया है।

उसने 2 पेज के इस नोट में वंदे मातरम और जय श्री राम लिखा है। नोट में लिखा है। बीजेपी सरकार ने कहा था कि कानून व्यवस्था में सुधार आएगा लेकिन नहीं हुआ। योगी राज में गुंडागर्दी बराबर चल रही है इसीलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूं।

ये है पूरा मामला
महोबा जिले के महोबकंठ थाना इलाके के सौरा गांव में एक मंदिर है। इस मंदिर में पिछले 14 सालों से छतरपुर (मप्र) के रहने वाले बिहारी लाल दीक्षित पुजारी थे।
सुसाइड नोट के मुताबिक, पिछले हफ्ते गांव के ही सोनू राजा, राजू, दयाराम सहित तीन दबंग उन्हें रात में एक कार्यक्रम के लिए लेने आए। उन्होंने मना किया तो रिवॉल्वर के बल पर ले गए। वहां उसके साथ मारपीट भी की गई। इसके बाद से उन्हें लगातार परेशान किया जाने लगा।
उन्होंने इस बात की पुलिस को सूचना दी थी लेकिन कुछ नहीं हुआ। लगातर परेशान किये जाने के कारण शनिवार रात पुजारी ने सुसाइड कर लिया।
पुलिस अधिकारियों के लिए 101 रुपए का इनाम
सुसाइड नोट में पुजारी ने लिखा है। योगी से हमारा कहना है कि सारा गांव की कानून व्यवस्था का सुधार होना चाहिए। अगर आपके राज में नहीं हुआ तो कभी नहीं होगा। कानून व्यवस्था चुस्त रहनी चाहिए।
यही नहीं पुजारी ने कार्रवाई किए जाने पर डीजीपी एसपी एसओ को 101 रुपए इनाम दिए जाने की बात भी लिखी है।
क्या कहती है पुलिस
एसओ अंजनी कुमार राय ने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस को पुजारी को सुसाइड नोट मिला है। जिसमें आरोपियों के लिखे नामों के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों को तलाशा जा रहा है।

loading...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com