Main Sliderबिहार

चुनाव आयोग से शरद को झटका, नीतीश को मिला ‘तीर’

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने आज शरद यादव और नीतीश कुमार खेमे में चली आ रही चुनाव चिह्न की लड़ाई में नीतीश गुट को असली जनता दल यूनाईटेड (जेडीयू) माना है। आयोग ने शुक्रवार को इस प्रकरण में आदेश सुना दिया है। आयोग ने शरद यादव को करारा झटका दिया है। आयोग के इस फैसले से शरद यादव और अली अनवर की राज्यसभा की सदस्यता पर भी खतरा मंडरा गया है|

सदस्यता का मामला फिलहाल राज्यसभा के सभापति के पास लंबित है|
चुनाव आयोग ने गुजरात से विधायक छोटू भाई वसावा के खेमे को असली जेडीयू बताने वाली याचिका को भी खारिज कर दिया है। आयोग ने कहा है कि नीतीश के पास विधायकों का पर्याप्त समर्थन है। जेडीयू प्रवक्ता के सी त्यागी ने फैसले पर ख़ुशी जताते हुए कहा जेडीयू गुजरात विधानसभा चुनाव में अपनी चार-पांच परंपरागत सीटों पर चुनाव लड़ेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी के तीन राज्यसभा सदस्यों को छोड़कर पार्टी के सभी विधायकों और सांसदों ने नीतीश कुमार का समर्थन किया था। इस संबंध में चुनाव आयोग में शपथपत्र भी दिया था।

loading...
Loading...

Related Articles