मानवता शर्मशार: 10 सालों से जंजीरो में बंधा युवक

सीतापुर। यूपी के सीतापुर जिले में मानवता को शर्मशार करने वाला मामला प्रकाश में आया है। यहां एक युवक को उसके घरवालों ने 10 सालों से जंजीरो में बंध रखा है। युवक खटिया में ताला लगाकर रखा जाता है लेकिन प्रशासन को इसकी खबर तक नहीं है।

इलाज ना करा पाने के कारण पैरों में लगाया ताला
जानकारी के मुताबिक, इमलिया सुल्तानपुर थाना क्षेत्र के तिहार गांव में रहने वाले एक परिवार ने एक युवक को बांधकर रखा है। तस्वीरों में दिखाई पड़ रहा ये युवक मंदबुद्धि का बताया जा रहा है। इसके पैर जंजीरों में ताले से जकड़े हुए हैं। युवक खटिया में ताला डालकर रखा गया है। गांव की महिलाओं का कहना है कि ये युवक पिछले 10 या 12 सालों से जकड़ा हुआ है। हालांकि इस पूरे मामले की पुलिस और प्रशासन को कोई खबर नहीं है। इतना ही नहीं घरवालों का कहना है कि प्रशासन से कोई उन्हें मदद भी नहीं मिली है। युवक बीमार बताया जा रहा है और घरवालों के पास इतना पैसा नहीं है कि वह उसका इलाज करा पायें।

पहला नहीं है ये मामला
जंजीरों से जकड़ने का ये कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले कौशाम्बी जिला के कौशाम्बी थाना क्षेत्र के रजऊ का पूरा गांव के रहने वाले किराना कारोबारी सोहराब ने अपनी बेटी को जंजीरों से बांधकर रखा था। पिछले महीने मामला हाइलाइट होने के बाद सीडब्लूसी चाइल्ड वेलफेयर ने उसे बंधनमुक्त कराया। बता दें कि जहां पत्नियां पति को देवता मानती हैं। वहीं सीतापुर में एक पत्नी अपने पति को जंजीरो से ताला डालकर बांधकर रखने को मजबूर है।

=>