उत्तर प्रदेश

एटीएम बदल लाखों की ठगी करने वाले 04 अन्तर्राज्यीय जालसाज गिरफ्तार


लखनऊ। लखनऊ की साइबर क्राइम सेल और हजरतगंज पुलिस ने एटीएम हैक कर धोखाधडी करके पैसा निकालने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह के 04 शातिर जालसाजो को आज गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। जालसाजों के पास से 16 एटीएम, 16 हजार रुपए कैश, एक बोलेरो गाड़ी व चार मोबाइल फोन बरामद हुए हैं।

एसएसपी दीपक कुमार ने बुधवार को प्रेस वार्ता में बताया कि एटीएम कार्ड धोखे से बदलकर लोगों का पैसा एटीएम से निकालने के संबंध में पिछले दिनों मोहनलालगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इस मामले की जांच कर रही पुलिस ने साइबर सेल से मद्द मांगी थी। जांच में जुटी साइबर क्राइम सेल और हजरतगंज पुलिस ने साइबर तकनीक का प्रयोग कर बुधवार को चार जालसाजों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए चारां आरोपियों की पहचान वशिष्ट सिंह निवासी आज़मगढ़, संजय कुमार व ब्रजेश कुमार विश्वकर्मा निवासीगण सुल्तानपुर और धमेन्द्र निवासी जौनपुर के रूप में हुई हैं।

एसएसपी ने बताया कि पकड़े गए जालसाज बड़े शातिर हैं। यह लोगों को निशाना बनाने से पहले एटीएम के आस-पास रेकी करते करते थे और उस एटीएम बूथ के आस-पास खड़े हो जाते जिसमें वृद्ध या कम पढ़े लिखे दिखने वाले लोग हो। फिर उनकी मद्द के नाम पर धोखे से एटीएम मशीन के बाईं साइड पर उपर लगे बटन को दबा कर थोड़ी देर के लिए हैंग कर देते। फिर लोगों की तकनीकी कमजोरी का फायदा उठाकर उन लोगों का एटीएम कार्ड बदल देते और उसी से मिलता जुलता उसी बैंक का एटीएम कार्ड उनको थमा दिया जाता था। इसके बाद जालसाज पीड़ित के खातों से एटीएम कार्ड के जरिए मोबाइल, गाड़ी की बैटरी आदि सामानों की खरीद व कैश विड्राल कर लेते थे। जब एटीएम कार्ड ब्लाक करा दिया जाता तो जालसाज उस कार्ड का इस्तेमाल अगले टारगेट के लिए करते।

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह सालों से यूपी, हरियाणा, दिल्ली, पंजाब व राजस्थान में इस जालसाजी के लिए लोगों के एटीएम केक जरिए लाखों की धोखाधड़ी कर चुके हैं। एसएसपी ने बताया कि आरोपिसयों के खिलाफ बस्ती जनपद में 05 मुकदमें दर्ज हैं।

loading...
Loading...

Related Articles

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com