जौनपुर

अब स्कूलों में मां के मन का मिड-डे-मील

जौनपुर। परिषदीय स्कूलों में नौनिहालों को उपलब्ध कराए जाने वाले मिड-डे मील की निगरानी अब मां करेंगी। मां दरअसल इन विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों की माताओं की समिति होगी। इसमें 6 माताएं शामिल होंगी जो स्कूलों में भोजन की गुणवत्ता ही नहीं परखेगी बल्कि उनके मन के अनुसार नौनिहालों को भोजन वितरण किया जाएगा। इसके लिए एक पखवाड़े का स्वस्थ शरीर स्वस्थ दिमाग अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए शासन द्वारा फरमान भी जारी हो गया है।

नए साल में मध्याह्न भोजन योजना के तहत गठित मां समूह का लाभ छात्र- छात्राओं को दिलाने की तैयारी है। इस समूह की नियमित बैठकें कराकर योजना को बेहतर करने के लिए माताओं के विचार लेने का निर्देश जारी हुआ है। साथ ही विद्यालयों में 15 से 30 जनवरी तक स्वस्थ शरीर स्वस्थ दिमाग पखवाड़ा मनाया जाएगा। इसमें विविध आयोजन होंगे। मध्याह्न भोजन प्राधिकरण के निदेशक अब्दुल समद द्वारा सभी जिलाधिकारियों को इस संबंध में निर्देश जारी किया गया है। कहा है विद्यालयों में मध्याह्न भोजन योजना संचालित है उसे और बेहतर करने के लिए मां समूह का गठन किया जा चुका है। इसका उद्देश्य खाने के मीनू को और बेहतर बनाना है, क्योंकि बच्चे के संबंध में मां से अच्छी जानकारी किसी के पास नहीं होती। निर्देश में कहा है कि इस समूह की नियमित बैठकें कराकर योजना के बेहतर संचालन को उनके विचार लिए जाएं।

वहीं, शिक्षक छात्र-छात्राओं से भोजन की गुणवत्ता, व्यक्तिगत स्वच्छता और पर्यावरण स्वच्छता पर चर्चा करें। विशेष पखवाड़े में विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्य, गणमान्य नागरिक व जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर साफ सफाई के बारे में जानकारी दी जाए। हर स्कूल के बच्चे स्वच्छता के संबंध में रैली निकालें। वहीं, छात्र-छात्राओं के मध्य खेलकूद, वाद-विवाद, चित्रण, पोस्टर मे¨कग, लोकगीत व नाटक आदि का आयोजन हो। निर्देश में कहा गया है कि विद्यालय परिसर की साफ-सफाई के साथ ही पौधरोपण भी कराया जाए जिससे शुद्ध वातावरण दिखाई पड़े।

loading...
Loading...

Related Articles