जौनपुर

कंपकपाते मौसम में अलाव ही सहारा

जौनपुर। सर्दी का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। बुधवार को भले ही कोहरा ज्यादा नहीं रहा, लेकिन गलन से हर कोई बेहाल दिखा। सुबह से ही मौसम ने कंपकंपी छुड़ा दी। लोग देर तक रजाइयों में दुबके रहे तो बाजारों में भी दुकानें देर से खुलीं। गांवों में तो सर्दी के चलते सुबह सवेरे ही अलाव सुलग उठते हैं। इधर दिन भर सर्द हवाएं लोगों को परेशान करती रहीं। बाजार में भी दुकानों पर बिक्री थम सी गई है। गुरूवार को न्यूनतम तापमान 11 डिग्री तक पहुंच गया। सुबह से ही घने बादल छाए रहे। हालांकि कोहरा न होने से वाहनों की रफ्तार तो नहीं थम सकी, लेकिन सर्दी के चलते लोग घरों से निकलने से कतराते दिखाई दिए। सुबह घरों में सवेरा देर से हुआ। सर्दी के चलते लोग देर तक रजाइयों में दुबके रहे तो दफ्तरों में भी कर्मचारी लेट पहुंचे। शहर की राहों पर भी सर्दी का असर दिखाई दिया।

बाजार में दुकाने रोज के वक्त से एक घंटा बाद खुलीं। ओलन्दगंज मार्केट में सुबह दस बजे खुल जाने वाली कई दुकानों पर 11 बजे बाद तक ताला ही लटका हुआ था। कहीं पर कर्मचारी पहुंच भी गए तो दुकान स्वामी नहीं पहुंचे थे। सर्दी का असर शाम तक हावी रहा। 12 बजे हल्की धूप निकलने पर लोग छतों तथा खुले स्थान पर धूप लेने भागे। कलेक्ट्रेट में वादकारी और कर्मचारी सभी गुनगनी धूप का आनन्द लेते देखे गये। जिला अस्पताल के साथ साथ सरकारी दफ्तरों में भी यही हालात नजर आए।

अलाव के इर्द-गिर्द बैठकर कर्मचारी कंपकंपी छुड़ाते नजर आए तो वहीं शहर के चौराहों एवं नुक्कड़ों पर स्थित चाय की दुकानों पर भी ऐसा ही नजारा दिखाई दिया। दोपहर में धूप खिलने पर लोगों ने राहत की सांस ली। निकली तो घरों की महिलाएं छत की तरफ दौड़ पड़ी। तीन-चार दिन से धूप न निकलने से कपड़े नहीं सूख रहे थे, इन्हें लेकर छत पर पहुंची।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button