शिक्षा—रोजगार

जाने 12 वीं के बाद कोन से कोर्स करने होगे सही

नई दिल्ली : 12वीं क्लास पूरी करने के बाद हर किसी को स्कूल लाइफ से मिल जाती है छुटटी। आप जैसे ही इस क्लास को पूरा करते है आप हकीकत की इस दुनिया में कदम बढ़ा लेते हैं। लेकिन ये परेशानी हर स्टूडेंट को झेलनी पडती है कि उसके लिए बेहतर करियर कौन सा होगा

और वो किस तरफ अपने कदमों को आगे ले जाए। आज आप को बताते है कि वो कौन से कोर्स है जोकि आप के करियर को बेहतर बना सकते है और आप गारेटी से जॉब पा कर ही रहेगे।

 

Web Design

दुनिया भर में इंटरनेट कम्‍यूनिकेशन का महत्‍वपूर्ण जरिया बनता जा रहा है और इंटरनेट की लाइफलाइन हैं वेबसाइट्स. ऐसे में वेब डिजाइनिंग में अच्‍छा करियर स्‍कोप है। किसी भी इंस्‍टीट्यूट या कंपनी के लिए वेबसाइट का होना बेहद जरूरी है। कंप्यूटर से रिलेटेड जॉब्स में

वेब डिजाइनिंग भी एक अच्छा फील्ड है। इस फील्ड में जॉब की कोई कमी नहीं है। प्रोफेशनल वेब डिजाइनिंग का कोर्स एक साल का होता है। इसके अलावा 3 से 6 महीने के शॉर्ट टर्म कोर्सेस भी ऑफर किए जा रहे हैं। इस कोर्स को आप 12वीं के बाद कर सकते हो। इस कोर्स में कोडिंग लैंग्वेज जैसे HTML, PHP, JavaScript आदि सिखाई जाती है।

VFX & Animation
इस कोर्स में विजुअल इफेक्ट्स, एनिमेशन, 3डी टेक्नोलॉजी, ग्राफिक्स आदि के बारे में नॉलेज दिया जाता है। वीएफएक्स और एनिमेशन प्रोफेशनल की डिमांड बढऩे के कारण यह कोर्स बहुत पॉपुलर हो चुका है। इस कोर्स को ज्यादा इस्तेमाल तो आजकल फिल्मों में हो रहा है।

फिल्मों में एनिमेशन और विजुएल इफेक्ट काफी डिमांड होती है। फिल्म इंडस्ट्री के साथ ही इंडीपेंडेंटली काम करने करने का इसमें बड़ा स्कोप है। इस कोर्स को सीखकर आप अच्छी खासी कमाई कर सकते हो।

Hardware & Networking Course
आपको अगर कंप्यूटर, लैपटॉप और इसके नेटवर्क को समझने में दिलचस्पी है तो यह फील्ड आपके लिए है। 12वीं के बाद कोई भी छात्र हार्डवेयर और नेटवर्किंग में डिप्लोमा या डिग्री कोर्स कर सकता है। यह एक ऐसी फील्ड है, जिसकी मांग हमेशा ही रहेगी। इसमें डिप्लोमा इन

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग, कम्प्यूटर परिफ्रल रिपेयरिंग, डिप्लोमा इन नेटवर्किंग एंड कम्यूनिकेशन, इंटरनेट मार्केटिंग एंड सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन जैसे कोर्स किए जा सकते हैं। इसके द्वारा भी आप कम टाइम में अच्छी जॉब का ऑफर पा सकते हो।

Software & Programing Cours
सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट में भी जॉब की कोई कमी नहीं। सॉफ्टवेयर एंड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के कोर्स करने पर आपके पास जॉब के कई ऑप्शन

खुल जाते है। इस कोर्स के तहत आपको प्रोगामिंग लैंग्वेज जैसे Java, C++ आदि सीखना होता है। इन लैंग्वेज में परफेक्ट होने पर आईटी कंपनियों में जॉब के ढेरों ऑप्शन स्टूडेंट्स को मिलते हैं।

loading...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com