कारोबार

नहीं हुआ ई-वाणिज्य कंपनी फ्लिपकार्ट और स्नैपडील का विलय

नई दिल्ली । ई-वाणिज्य कंपनी स्नैपडील ने फ्लिपकार्ट के साथ अधिग्रहण को लेकर बातचीत समाप्त कर दी है। कंपनी ने कहा है कि वह अपना कामकाज जारी रखेगी और ‘स्वतंत्र तरीके से रास्ते पर आगे बढ़ेगी।’ ऐसी खबरें थी कि स्नैपडील अपना कारोबार फ्लिपकार्ट को 90 से 95 करोड़ डालर में बेचने के लिये बातचीत कर रही है।

स्नैपडील के प्रवक्ता ने फ्लिपकार्ट का नाम लिये बिना ई-मेल के जरिये दिये बयान में कहा, ‘‘स्नैपडील पिछले कई महीनों से रणनीतिक विकल्प तलाश रही थी। कंपनी ने अब स्वतंत्र रास्ता अपनाने का निर्णय किया है और इसके परिणामस्वरूप जारी सभी रणनीतिक वार्ता समाप्त कर रही है।

कंपनी ने कहा कि यह मजबूती के साथ नई दिशा स्नैपडील-2 है और हमने इस महीने सकल लाभ हासिल कर इसे क्रियान्वित करने की दिशा में उल्लेखनीय प्रगति हासिल की है। बयान के मुताबिक, ‘‘इसके अलावा कुछ गैर-महत्वपूर्ण संपत्ति को बेचकर ऐसी उम्मीद है कि स्नैपडील वित्तीय रूप से आत्मनिर्भर कंपनी बन जाएगी।

कुछ ही दिन पहले कंपनी ने डिजिटल भुगतान प्लेटफार्म फ्रीचार्ज एक्सिस बैंक को 385 करोड़ रुपये में बेचने पर सहमति जतायी। उसके बाद उक्त बात सामने आयी है। घरेलू ई-वाणिज्य खंड की प्रमुख कंपनी स्नैपडील को अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी दूसरी कंपनियों से कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा था।

इससे उसकी वित्तीय स्थिति पर असर पड़ा। स्नैपडील में सबसे बड़ी निवेशक जापान की कंपनी साफ्टबैंक बिक्री को लेकर बातचीत में मध्यस्थता कर रही थी। साफ्टबैंक के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम स्वतंत्र रास्ता अपनाने के निर्णय का सम्मान करते हैं। हमारा स्नैपडील-2 रणनीतिक के परिणाम को लेकर नजरिया सकारात्मक है…।’

loading...
Loading...

Related Articles