Main Sliderकारोबार

फैब इंडिया पर 525 करोड़ का केस दर्ज, सूती कपड़ों को खादी बताकर बेचा…

नई दिल्ली। खादी ग्रामोद्योग आयोग ने खादी के कपड़े बेचने वाली कंपनी फैब इंडिया के खिलाफ बॉम्बे हाई कोर्ट में केस दर्ज कराया है। आपको बता दें कि खादी आयोग ने फैब इंडिया पर फैक्ट्री में बने सूती कपड़ों को खादी के नाम पर बेचने और उसे 525 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाते हुए मामला दाखिल करवाया है। इतना ही नहीं खादी आयोग की तरफ से केस लड़ने वाली लॉ फर्म कोचर ऐंड कंपनी ने फैब इंडिया से कहा कि वह ‘खादी’ ट्रेडमार्क के जरिए कपड़े बेचे जाने के चलते हुए सारे नुकसान की भरपाई करे।
इस पुरे मामले को लेकर मीडिया से बात करते हुए फैब इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, ‘इस संबंध में अभी हमें कोई जानकारी नहीं मिली है। इस संबंध में उससे पहले कोई भी टिप्पणी करना सही नहीं होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इससे पहले फैब इंडिया ने कहा था कि वह 2015 से ही खादी एवं ग्रामोद्योग के संपर्क में है और मामले को निपटाने का प्रयास किया जा रहा है।
देश में खादी के प्रोत्साहन का काम देखने वाली संस्था खादी एवं ग्रामोद्योग का कहना है कि उसने फैब इंडिया को यह अधिकार नहीं दिए हैं कि वह खादी ब्रैंड के तहत कपड़े बेचे। फैब इंडिया से इस संबंध में बातचीत चल रही थी, लेकिन फैब इंडिया की ओर से तय प्रक्रिया का पालन न किए जाने के चलते यह रद्द हो गई।
loading...
Loading...

Related Articles