बदहाल कानून व्यवस्था को लेकर उग्र क्षत्रिय महासभा ने की शहर कोतवाल को हटाने की मांग

पुलिस अधीक्षक को सौंपा मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन
हरदोई।  हरदोई नगर में एक के बाद एक हो रही लूट की घटनाओं से गुस्साए अखिल  भारतीय क्षत्रिय महासभा के पदादिकारियों ने शहर कोतवाल को बर्खास्त करने की मांग मुख्यमंत्री से की और शहर कोतवाल की बर्खास्तगी की मांग के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन पुलिस अधीक्षक को सौंपा।
बताते चलें कि कोतवाली शहर के अंतर्गत पिछले करीब एक माह में  दर्जनों लूट व चोरी घटनाएं हुई है जिसमे कुछ दिनों पूर्व भाजपा नेता प्रधान संघ के जिलाध्यक्ष आशीष सिंह के आवास पर घर में घुसकर तमंचे के बल पर हुई लूट व शुक्रवार को जिले के वरिष्ठ पत्रकार रंजीत सिंह की माता को जीप मे खींचकर उनके साथ हुई लूट की घटना, के चप्पल स्टोर में सेंधमारी, देव कंप्यूटर की शॉप में हुई लूट सहित कई घटनाएं अब तक जिले में घटित हो चुकी है लेकिन शहर पुलिस लूट की घटनाओं का खुलासा कर पाए उससे पहले ही लूट की एक नई घटना को अंजाम देकर अपराधी पुलिस को खुली चुनौती दे रहे है।
नगर में लगातार हो रही घटनाओं व उनके खुलासे ना हो पाने से गुस्साए क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय सचिव राजवर्धन सिंह ने महासभा सहित अन्य समाज के अन्य संभ्रांत नागरिकों के साथ शहर कोतवाल भगवान् सिंह को हटाने की मांग मुख्यमंत्री से करते हुए एक ज्ञापन पुलिस अधीक्षक विपिन कुमार सिंह को सौंपा। इस दौरान महासभा के पदाधिकारियों ने शहर कोतवाल को भ्रष्टाचार कर पैसा बंनाने वाली मशीन बताते हुए कहा कि शहर कोतवाली क्षेत्र में रोज एक के बाद एक लूट के घटनाएं हो रही है लेकिन शहर कोतवाल घटना का खुलासा करने में असमर्थ साबित हो रहे है और इसका खामियाजा शहर की आम जनता को उठाना पड़ रहा है। ज्ञापन से पूर्व क्षत्रिय महासभा के पदादिकारियों ने शहर कोतवाल को बर्खास्त करने की मांग करते हुए पुलिस अधीक्षक कार्यालय में जमकर नारेबाजी भी की।
ज्ञापन के दौरान प्रमुख रूप से क्षत्रिय महासभा के जिलाध्यक्ष अतुल सिंह, अखिल चंदेल, उत्तर प्रदेश अधिवक्ता महासंघ के जिलाध्यक्ष शिवसेवक गुप्ता, अधिवक्ता शशिभूषण शुक्ला, संजय कुमार सिंह, समाजसेवी आरिफ खान शानू, परवेज आलम, अधिवक्ता अखिलेश सिंह, पवन सिंह, निरंकार सिंह, राजू सिंह सोमवंशी व अमित सिंह गौर सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।
=>