अंतरराष्ट्रीय

उत्तर कोरिया परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए प्रतिबद्ध : पोम्पियो

टोक्यो। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने रविवार को कहा कि उनके हालिया प्योंगयांग दौरे के दौरान उत्तर कोरिया ने परमाणु निरस्त्रीकरण के प्रति अपनी प्रतिबद्धता की फिर से पुष्टि की है। समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के मुताबिक, अपने जापानी व दक्षिण कोरियाई समकक्ष तारो कोको और कांग क्यूंग-व्हा के साथ यहां एक संयुक्त प्रेस वार्ता में पोम्पियो ने उत्तर कोरिया में अपनी वार्ता को ’बहुत ही सफल और अधिक विश्वास के साथ संपन्न’ करार दिया। उन्होंने कहा कि प्योंगयांग ने एक मिसाइल सुविधा केंद्र को ध्वस्त करने पर सहमति जताई है।

उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर कोरिया के खिलाफ प्रतिबंध तब तक बरकरार रहेंगे जब तक वह अपने परमाणु हथियार कार्यक्रम को पूरी तरह से खत्म नहीं कर देता।

पोम्पियो ने कहा, “हालांकि हम इस वार्ता की प्रगति से प्रोत्साहित हैं, लेकिन सिर्फ प्रगति ही शासन पर लगे प्रतिबंधों को हटाने के लिए पर्याप्त नहीं है।“ उन्होंने कहा कि आगे का रास्ता कठिन और चुनौतीपूर्ण है।

पोम्पियो ने उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री जनरल किम योंग चोल के बयान को तवज्जो नहीं दी। चोल ने पोम्पियो से मुलाकात के बाद शनिवार को कहा था कि वार्ता के दौरान अमेरिका का रवैया ’खेदजनक और गैंगस्टरों की तरह था।’ साथ ही वार्ता के नतीजे ’बहुत ही चिंताजनक’ रहे हैं। पोम्पियो ने कहा कि उत्तर कोरिया की सरकार जानती है कि उसका परमाणु निरस्त्रीकरण का कार्यक्रम पूरा होना होगा और इसकी पुष्टि भी अनिवार्य होगी।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button