उत्तर प्रदेशकानपुर

प्रतिबंधित मार्गों पर ई—रिक्शा चलाने पर होगी कार्यवाई

कानपुर। वीआईपी रोड और माल रोड समेत जिन-जिन मार्गों पर ई—रिक्शा चलाने पर प्रतिबंध है उसमें कोई ढील नहीं दी जाएगी। आरटीओ से सत्यापित और बीमा धारक ई—रिक्शा ही शहर में अधिकृत मार्गों पर चल पाएंगे। इस संबंध में एसपी (ट्रैफिक) ने ई—रिक्शा चालकों के प्रतिनिधिमंडल को स्पष्ट निर्देश दिया है।

जनता जनकल्याण समिति और ई—रिक्शा ऑनर्स एवं ऑपरेटर्स यूनियन के प्रतिनिधिमंडल ने एसपी ट्रैफिक सुशील कुमार से मांग की, कि माल रोड और वीआईपी रोड पर ई—रिक्शा चलाने की अनुमति दी जाए। एसपी ट्रैफिक ने कहा कि एक साल पहले ही इस संबंध में प्रतिबंध लगाया जा चुका है। सात सदस्यीय समिति ने यह फैसला लिया था जिसमें न सिर्फ एसपी ट्रैफिक बल्कि नगर आयुक्त के साथ ही जिला प्रशासन के भी अफसर थे। इसके बाद बकायदा नोटिफिकेशन जारी हो चुका है। लिहाजा इस प्रतिबंध को वापस लेने का कोई सवाल ही नहीं है।
एसपी ट्रैफिक ने कहा कि नियमों का पालन हर हाल में करना होगा। जहां से जहां के बीच चलने की अनुमति है और जहां ठहराव स्थल हैं वहीं होंगे। हर जगह ई—रिक्शा खड़े नहीं किए जा सकते। उन्होंने कहा कि ई.रिक्शा में किसी भी सूरत में टेप रिकॉर्डर नहीं लगा होना चाहिए। मानक से अधिक सवारी नहीं बैठाई जाएंगी। अगर नियमों का उल्लंघन किया गया तो चालान और सीज की कार्रवाई होगी।
एआरटीओ (प्रशासन) आदित्य त्रिपाठी का कहना है कि शहर में अवैध तरीके से हजारों ई—रिक्श चल रहे है। इन पर रोक लगाने लगाने के लिए जिला और ट्रैफिक पुलिस का सहयोग मिले तो सार्थक परिणाम निकल सकते है। वीआईपी और मालरोड पर ई—रिक्शों पर रोक है। ट्रैफिक पुलिस चालान के साथ सीज भी करना शुरू कर दे तो रोक लगने लगेगी।

loading...
Loading...

Related Articles