दो दर्जन बाइक, चोरों के साथ चार गिरफ्तार

रायबरेली। घटना के खुलासे में नंबर वन रहने वाली कोतवाली पुलिस व स्वाट टीम ने आज फिर एक और बड़े खुलासे के साथ दो दर्जन मोटर साइकिलों की रिकवरी कर सामने आकर अपने हौसलों को बुलंद किया।


कोतवाली पुलिस की इस बड़ी कामयाबी स्वाट टीम और थाना कोतवाली नगर के संयुक्त टीम ने 21 मोटरसाइकिल व तीन पानी के डीजल इंजन की बरामदगी के साथ 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह ने बताया कि जनपद में पुलिस द्वारा जिले में चलाए जा रहे अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध चलाये जा रहे सघन चेकिंग अभियान में कोतवाली नगर व स्वाट टीम की संयुक्त टीम मामा चौराहे से चेकिंग के दौरान अंतर्जनपदीय वाहन चोरों को 21 मोटरसाइकिल व 3 पानी के डीजल इंजन के साथ गिरफ्तार किये गए। गिरफ्तार चोरों में कल्लू उर्फ छत्रपाल यादव पुत्र कुमार भरत निवासी बरगदहा थाना ऊंचाहार, महेश कुमार यादव पुत्र राम खेलावन निवासी देवगांव थाना लालगंज रायबरेली, सुकेश उर्फ धोनी पुत्र छोटेलाल निवासी निवासी तिवारी का पुरवा थाना लालगंज, ललित यादव पुत्र रामनाथ यादव निवासी पूरे देवकली थाना लालगंज पर पहले से भी कई अपराधिक मामलों में मुकदमे दर्ज है जिन पर आज कोतवाली पुलिस द्वारा मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेजा गया।

बताते चलें कि इन आरोपियों से पूछताछ करने पर पता चला कि महेश कुमार ने बताया कि मेरा एक गैंग है हम अपने साथियों के साथ मिलकर मोटरसाइकिल चोरी का कार्य कई वर्षों से करता चला आ रहा हूं। इसके पहले मैं मोटरसाइकिल की चोरी में जेल भी जा चुका हूं मुकदमे की पैरवी एवं जीवन यापन करने के लिए हम लोग यह चोरी का काम कर रहे थे जब मोटरसाइकिल का काम नहीं मिलता था तब हम चारों लोग मिल कर किसान के खेत में लगे पंपिग सेट इंजन को खोलकर बेच लिया करते थे जिससे खर्चे चल जाते थे। इन आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार सिंह कोतवाली राकेश कुमार सिंह प्रभारी स्वाट टीम सिविल लाइन चैकी इंचार्ज नारायण कुमार कुशवाहा, उपनिरीक्षक अमरेश कुमार त्रिपाठी, उप निरीक्षक पुरुषोत्तम दास तथा उप निरीक्षक मान सिंह व कांस्टेबल मनोज सिंह कांस्टेबल पंकज सिंह कांस्टेबल संतोष सिंह कांस्टेबल राम आधार किशोर कांस्टेबल दुर्गेश कुमार सिंह कांस्टेबल राजेंद्र कुमार कांस्टेबल कमलेश कुमार कांस्टेबल रत्नेश कुमार कांस्टेबल लक्ष्मीकांत व कांस्टेबल अरुण कुमार तथा कांस्टेबल राम सजीवन यादव ने उपरोक्त घटना का अनावरण करने में साथ रहे। इनको पुलिस टीम द्वारा पुलिस अधीक्षक की तरफ से रूपये10000 व आई जी रेंज लखनऊ की तरफ से रूपये 25000 का इनाम कोतवाली पुलिस व टीम स्वाट टीम को दिया गया।

=>