Main Sliderउत्तर प्रदेश

मायावती आर्थिक आधार पर आरक्षण के पक्ष में

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी ने केंद्र सरकार से सर्वसमाज में से ऊंची जातियों के गरीबों को आर्थिक आधार पर अलग से आरक्षण देने की मांग की है। पार्टी ने कहा कि यदि इस संबंध में सरकार संसद में संविधान संशोधन विधेयक लाती है तो वह इसका पुरजोर समर्थन करेगी।

बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने कहा, “हमारी पार्टी सर्वसमाज में से अपरकास्ट समाज और मुस्लिम एवं अन्य धार्मिक अल्पसंख्यक समाज के गरीबों को भी आर्थिक आधार पर अलग से आरक्षण देने के लिए संविधान संशोधन के पक्ष में रही है और इसके लिए काफी पहले से प्रयासरत भी रही है।”

उन्होंने कहा कि इस संबंध में वैसे भी यह सर्वविदित ही है कि बीएसपी द्वारा कई बार संसद में और संसद के बाहर भी जोरदार मांग की गई है और उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री के तौर पर उन्होंने केंद्र सरकार को चिट्ठी भी लिखी थी।

मायावती ने कहा, “आज फिर से बीएसपी का यही कहना है कि अगर केंद्र की सरकार हमारी मांग पर अमल करते हुए ठोस कदम उठाकर संसद में संविधान संशोधन विधेयक लाती है तो हमारी पार्टी इसका पुरजोर समर्थन करेगी, ताकि सर्वसमाज में से अपरकास्ट समाज और मुस्लिम एवं अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों के गरीबों को भी आगे बढ़ने का कुछ मौका मिल सके।”

loading...
Loading...

Related Articles