राष्ट्रीय

धर्म-जाति के आधार पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की मूर्ति हटा रही भाजपा सरकार : सपा

आज़मगढ़। समाजवादी पार्टी ने उ.प्र. की भाजपा सरकार पर धर्म व जाति के आधार पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की मूर्ति हटाये जाने का आरोप लगाया है। सपा का कहना है कि सड़क चौड़ीकरण के नाम पर सरकार ने उनकी मूर्ति को हटवा दिया है, लेकिन पार्टी इसको लेकर संघर्ष करेगी।
सपा के जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने आईपीएन से बातचीत में कहा कि भाजपा की सरकार में धर्म व जाति के आधार पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की मूर्ति हटाई जा रही है। सन् 1942 स्वतंत्रता संग्राम आन्दोलन में अम्बारी निवासी रामसुन्दर यादव ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाया था। जनता उनका सम्मान करती थी। पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्व0चन्द्रजीत यादव ने स्वतंत्रता संग्राम में उनके संघर्षां को देखते हुए अम्बारी चौक फूलपुर में मूर्ति लगवाने का काम किया था जिससे हमारी आने वाली पीढ़ी उनको देखकर उनके सिद्धान्तों व संघर्षों का अनुसरण करेंगे। लेकिन वर्तमान सरकार सड़क चौड़ीकरण के नाम पर उनकी मूर्ति को हटवा दिया। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी इसको लेकर संघर्ष करने का काम करेगी।
हवलदार ने कहा कि भाजपा सरकार में धर्म व जाति के नाम पर जनता व उनके परिवारों के अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार हो रहा है। लोकतंत्र में धर्म व जाति के नाम पर किसी जाति विशेष के साथ नाइन्साफी होना अनुचित कदम है। इससे समाज में नफरत पैदा होती है, आपसी भाईचारा बिगड़ता है।

loading...
Loading...

Related Articles