UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 12:01 PM

पूजा पंडाल में आरती के समय फटा पाइप, भरा पानी

जहानाबाद। प्रखंड क्षेत्र के प्रांगकुश नगर दुर्गा पूजा पंडाल में सुबह कुछ समय के लिए अफरातफरी मच गई। सप्तमी को मां के पट खुलने के समय काफी संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी हुई थी। तभी नल जल योजना के पाइप से फव्वारा निकलने लगा। पानी का रिसाव इतना तेज था कि देखते ही देखते पूजा पंडाल पानी से भर गया। इसके बावजूद पंडाल में उपस्थित श्रद्धालु अपनी जगह पर जमे रहे। प्रांगकुश नगर में पिछले 25-30 वर्षों से पूजा समिति यहां पर अस्थाई दुर्गा पूजा का पंडाल बना रहे हैं। इस तरह की घटना पहली बार हुई है।

प्रखंड क्षेत्र के परावन गांव में फल्गु नदी के किनारे अवस्थित श्रीराम जानकी ठाकुरबाड़ी में मनोज बाबा के नेतृत्व में अखिल भारतीय श्रीराम कथा का आयोजन किया जा रहा है। प्रवक्ता डा. स्वामी रमेशाचार्य महाराज ने पांचवें दिन सीताराम विवाह प्रसंग की व्याख्या की। श्रोता कथा सुनकर मुग्ध हो गए। कहा कि विवाह को व्यापार व विक्रय-केन्द्र नहीं बनाया जाए। विवाह समाज की बहुत बड़ी समस्या है।

 

बेटी पक्ष के लोग दम तोड़ रहे हैं। विवाह त्याग एवं समर्पण का मूर्त रूप है। यह प्रेम व सद्भावना का अनूठा संगम है। श्रीराम और सीता का विवाह प्रेम व श्रद्धा का प्रतीक है। जनकपुर में श्रीराम एवं सीता का विवाह आदर्श विवाह के रूप में हुआ था। आज दहेज के नाम पर मानव दानव होता जा रहा है।

उन्होंने कहा कि दहेज सामाजिक अपराध है। इस पर रोक लगना चाहिए। उन्होंने कहा कि पढ़े लिखे दूल्हाजनों को अपने माता-पिता को समझाना चाहिए। दहेज एक कोढ़ है। यह श्रीराम कथा सोलह अक्टूबर तक प्रतिदिन दोपहर दो बजे से संध्या पांच बजे तक चलता रहेगा।

कार्यक्रम को सफल बनाने में समाजसेवी कमलेश, रामानंद, रामप्रवेश, मुन्ना यादव, अखिलेश शर्मा, पंकज शर्मा, संजय शर्मा, प्रिस यादव, ललन यादव, अरुण यादव आदि लोगों का विशेष सहयोग है। कथा से आसपास का इलाका भक्तिमय हो गया है। श्रद्धालु प्रवचन प्रारंभ होने से पूर्व ही पंडाल में उपस्थित हो जा रहे हैं।