UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 1:58 AM

नदियों में विसर्जन पर प्रतिबंध

नगर निगम द्वारा गड्ढे बना कर मूर्तियों के निस्तारण की व्यवस्था
लखनऊ,14 अक्टूबर । राजधानी में मनाये जाने वाले आगामी त्यौहार दुर्गापूजा को दृष्टिगत रखते हुए नगर निगम लखनऊ द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं के अंतर्गत शहर के समस्त क्षेत्रों में विशेष साफ-सफाई, चूना, फागिंग इत्यादि कार्य कराये जा रहे है। दुर्गा पूजा के उपरांत मूर्तियों के नदी में विसर्जन के कारण उत्पन्न होने वाले प्रदूषण की रोकथाम हेतु नदियों में विसर्जन पर प्रतिबंध के कारण नगर निगम द्वारा गड्ढे बना कर पूजा उपरांत मूर्तियों के निस्तारण की व्यवस्था कराई जा रही है। नगर आयुक्त द्वारा बुधवार को गोमती नदी किनारे के क्षेत्र का निरीक्षण कर समस्त व्यवस्थाओं को प्रभावी रूप से ससमय सुनिश्चित कराने हेतु समस्त सम्बन्धित को निर्देश दिये गये।
नगर निगम लखनऊ द्वारा गोमती नदी के तट पर झूलेलाल, लक्ष्मण मेला मैदान, कुड़ियाघाट तथा अन्य विभिन्न स्थलों गड्ढे बनवाये जाने का कार्य कर लिया गया है। मा. एन.जी.टी. नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेश के अनुपालन में गड्ढ़ो के नीचे प्लास्टिक की एक लेयर बिछायी जाएगी। विसर्जन हेतु गड्ढो की मेढ़बंदी के साथ-साथ नदी के किनारे व्यक्तियों को जाने से रोकने के लिए बैरिकेडिंग लगाये जाने का कार्य चल रहा है।
मूर्ति विसर्जन हेतु आने वाले व्यक्तियों की समूहो की सुरक्षा एवं सुविधा हेतु इन गड्ढो के आसपास प्रकाश की व्यवस्था की जा रही है। प्रकाश हेतु बिजली की लाइन न होने कारण निर्बाध विद्युत आपूर्ति हेतु जेनरेटर की व्यवस्था कराने के निर्देश दिये गये है। साथ-साथ नदी किनारे गोताखोरों का प्रबंध व उनकी तैनाती के निर्देश भी दिये गये ताकि किसी प्रकार की दुर्घटना को रोका जा सके। मूर्ति विसर्जन स्थलो के आसपास भी निरंतर साफ-सफाई बनाये रखने के निर्देश दिये गये है।
समस्त शहरवासियों से अपील की गयी है कि पर्यावरण की रक्षा को दृष्टिगत रखते हुए पूजा उपरांत मूर्तियों को नगर निगम द्वारा स्थापित गड्ढे में ही विसर्जित करे।