Main

Today's Paper

Today's Paper

Tarunmitra Banner

घायल की मौत पर बवाल के बाद एक्‍शन में पुलिस, हत्‍यारोपित-पुत्र को किया गिरफ्तार

देव, औरंगाबाद। भूमि विवाद का सिलसिला थम नहीं रहा है। आए दिन इस वजह से हिंसक वारदात होते रहते हैं। देव थाना क्षेत्र के नकटी गांव में पिछले भूमि को लेकर ही विवाद हुआ था जिसमें घायल 39 वर्षीय रवींद्र चौधरी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। एक सप्‍ताह तक जीवन-मौत से जूझने के बाद गुरुवार को रवींद्र ने पटना में दम तोड़ दिया। मौत के बाद स्वजनों ने शव के साथ पहुंचकर देव थाने का घेराव किया। उनका कहना था कि पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। पुलिस ने शुक्रवार को दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।


थानाध्यक्ष व्‍यंकटेश्‍वर ओझा ने बताया कि एक अप्रैल को नकटी गांव में जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में मारपीट की घटना घटी थी। मारपीट में रविंद्र चौधरी गंभीर रूप से घायल हो गया था। एक सप्‍ताह बाद गुरुवार को इलाज के दौरान पीएमसीएच पटना में उसकी मौत हो गई थी। मौत की खबर सुनते ही सैकड़ों लोग थाना पर पहुंचकर आरोपित को गिरफ्तार करने लगे। तब बाद इंस्पेक्टर विजय कुमार सिंह व थानाध्यक्ष वंकटेश्वर ओझा ने 48 घंटे के अंदर गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया था। मामले को गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष व एसआइ मनेश कुमार ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 12 घंटे के अंदर घटना के आरोपी भोला चौधरी व उसके पुत्र सरोज कुमार को गिरफ्तार कर लिया है ।


बता दें कि घटना को लेकर मृतक के भाई राजेंद्र चौधरी ने देव पुलिस थाने में कुछ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। घटना के बाद आरोपी फरार हो गए थे। थानाध्यक्ष ने बताया कि हत्या के मामले में गिरफ्तार दोनों आरोपित रिश्ते में बाप-बेटे हैं। दोनों की गिरफ्तारी बालापोखर नहर रोड से औरंगाबाद जाने के दौरान की गई ।थानाध्यक्ष ने बताया कि पुलिस की तीन टीमें अलग अलग जगहों पर छापेमारी कर रही थी कि सूचना मिली कि दोनों पिता पुत्र कहीं फरार होने की नीयत से देव-औरंगाबाद नहर रोड से जाने वाले है। इसी सूचना के आधार पर पुलिस ने घेराबंदी कर दोनों आरोपी को गिरफ्तार किया है। इधर पुलिस को देखते ही अभियुक्त भागने लगा। लेकिन पुलिस खदेड़ कर दोनों को पकड़ा है।

Share this story