Main

Today's Paper

Today's Paper

डीएम ने जताया असंतोष सुलिस गेट निर्माण में सुस्ती पर संवेदक को लगी फटकार

DM

दरभंगा। हायाघाट प्रखंड अंतर्गत बागमती नदी के दाहिने तटबंध में हथौड़ी पुल से हायाघाट तक का निरीक्षण डीएम ने किया। इस दौरान घोसरामा एवं हथौड़ी के पास चल रहे सुलिस गेट निर्माण कार्य का अधूरा रहने पर उन्होंने संवेदक को फटकार लगाई। उन्होंने कार्यपालक अभियंता एवं कार्यकारी एजेंसी को जल्द से जल्द सुलिस गेट निर्माण कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिए। साथ ही बेता एवं घोसरामा के निरीक्षण के दौरान सुलिस गेट का निर्माण कार्य अधूरा देख उन्होंने दोनों जगहों पर सुलिस गेट निर्माण कार्य बंद कर वहां ढाला (एप्रोच), रिंग बांध की तरह बनाकर उसे घेरने का निर्देश दिया ताकि तटबंध एवं पुल बाढ़ के समय क्षतिग्रस्त ना हो सके। 


निरीक्षण के दौरान बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल हथौड़ी के कार्यपालक अभियंता एवं कार्यकारी एजेंसी द्वारा कराये जा रहे तटबंध मरम्मति कार्य संतोषजनक नहीं देख उन्होंने कार्य की प्रगति में सुधार लाने का निर्देश दिया। डीएम ने जल संसाधन विभाग समस्तीपुर के मुख्य अभियंता से फोन पर वार्ता कर कार्यपालक अभियंता एवं कार्यकारी एजेंसी के द्वारा बांध मरम्मत कार्य में लापरवाही बरतने की बात कही। उन्होंने कहा कि वे पुनः 21 जून को निरीक्षण करेंगे तब तक तटबंध मरम्मत कार्य पूर्ण करा लें तथा रैनकट मरम्मति शीघ्र कराने के लिए किसी दूसरे एजेंसी को कार्य दे। बांध निरीक्षण के बाद डीएम ने हायाघाट प्रखण्ड में बाढ़ राहत एवं टीकाकरण को लेकर बैठक की।

जिसमें बहेड़ी प्रखंड के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा टीकाकरण से संबंधित पूरी जानकारी नहीं देने पर डीएम ने नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्हें पूरे डाटा के साथ बैठक में उपस्थित रहने का निर्देश दिया। वहीं बाढ़ की तैयारी की समीक्षा के दौरान बहेड़ी सीओ को सभी सरकारी नाव का सत्यापन कर डेंटिंग पेंटिंग कराकर रखने का निर्देश दिया। ताकि बाढ़ आपदा के समय दूसरे अंचल को नाव उपलब्ध कराया जा सके। बैठक में सहायक समाहर्त्ता अभिषेक पलासिया, एडीएम विभूति रंजन चौधरी, अधीक्षण अभियंता, बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल हथौड़ी डिवीजन, कार्यपालक अभियंता बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल हथौड़ी आदि मौजूद थे। 

Share this story