Main

Today's Paper

Today's Paper

पिता और सास ने की लवमैरिज, बेटे ने दोनों की हत्या के बाद दफना दी लाशें

Crime

जमुई। जिले के सिकंदरा में अपने पिता और सास की लवमैरिज से नाराज बेटे ने दोनों की हत्या के बाद शव को दफना दिया। ग्रामीणों को जब बदबू आई तब जाकर मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने दोनों के शवों को फाजील आहार से बरामद किया। बताया जा रहा है कि सास के साथ पिता की शादी से बेटा ललन मांझी नाराज था। ग्रामीणों ने बताया कि रवैय मुसहरी निवासी ललन के पिता कारू मांझी ने तीन साल पूर्व समधन रजपुरा मुसहरी की भवानी मांझी से शादी कर ली थी।

सोमवार को कारू पत्नी के साथ ललन के पास पहुंचा था। सास से साथ पिता को देख आक्रोशित ललन ने दोनों के साथ मारपीट की। बाद में ललन ने दोनों की हत्या कर लाश को आहार में दफना दिया। मंगलवार को आशंका पर थानाध्यक्ष ने आरोपी ललन से पूछताछ की लेकिन उसे छोड़ दिया। 


ग्रामीणों द्वारा बदबू की शिकायत पर आहार के पास पुलिस ने मिट्टी खुदवाई तो वहां दोनों की लाश मिली। एसपी प्रमोद कुमार मंडल ने बताया कि लापरवाही साबित होने पर सिकंदरा थानाध्यक्ष पर कार्रवाई होगी। हत्या का आरोपी जल्द गिरफ्तार होगा।


अगर मंगलवार को ही सिकंदरा पुलिस एक्शन में रहती तो शव बरामद हो जाते एवं अपराधी की गिरफ्तारी भी उसी दिन हो जाती। यह मामला सिकंदरा के रवैय गांव के ग्रामीण के द्वारा रवैय मुसहरी के पिता व सास की हत्या कर लाश को छुपाने की सूचना मंगलवार सुबह ही सिकंदरा थानाध्यक्ष को दे दी गयी थी। 


थाना अध्यक्ष ने अपने कर्मी को गांव भेजकर ललन मांझी को थाने ले आई थी। परंतु देर शाम तक ललन मांझी को हत्यारा ना समझ कर उसे छोड़ दिया गया। और उसे यह भी कह दिया गया कि जब हम दोबारा बुलाएं तब तुम चले आना। अपराधी कारू मांझी का अपना पुत्र ललन मांझी दोबारा आने की बात कहकर आसानी से वहां से निकल गया और अपने गांव से भी भाग गया। जब गुरुवार को इसका उद्भेदन हुआ तब थानाध्यक्ष एवं थाना के कर्मी के होशो हवास गुम हो गए। इसका उद्भेदन करने के पीछे पत्रकार का काफी सहयोग रहा।

Share this story