Main

Today's Paper

Today's Paper

निबंधित श्रमिकों को मिलेगा आयुष्मान भारत योजना का लाभ

जमुई। राज्य में संगठित एवं असंगठित क्षेत्रों में कार्य कर रहे श्रमिकों के कल्याण को लेकर श्रम संसाधन विभाग द्वारा कई कल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रहे श्रमिकों को स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने को लेकर श्रम संसाधन विभाग द्वारा श्रम कानून अधिनियम के तहत जिले के निबंधित श्रमिकों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ देने का निर्देश दिया है।

श्रम संसाधन विभाग द्वारा जारी निर्देश के आलोक में जिला स्तर पर निबंधित श्रमिकों का गोल्डन कार्ड बनाकर प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना को आम लोगों तक पहुंचाने के साथ-साथ आयुष्मान भारत योजना को गति देने का कार्य किया जा रहा है। जिला श्रम संसाधन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार भवन निर्माण सहित अन्य निर्माण कार्यों में जुड़े निबंधित श्रमिकों को आयुष्मान भारत का लाभ दिया जाएगा। जिले में श्रमिकों को आसानी से योजना का लाभ मिले, इसके लिए श्रम संसाधन विभाग द्वारा आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। 


जिला श्रम अधीक्षक पूनम कुमारी ने बताया कि इस योजना का लाभ लेने के लिए निबंधित श्रमिकों को आवश्यक कागजात श्रम अधिकारी कार्यालय में जमा करना होगा। तत्पश्चात आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। जिला श्रम संसाधन कार्यालय द्वारा प्राप्त आंकड़े के अनुसार जिले में कुल निबंधित श्रमिकों की संख्या 52 हजार 833 हैं। जिन्हें श्रम संसाधन विभाग द्वारा आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाया जाएगा।

श्रमिकों को आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाने को लेकर बीपीएल राशन कार्ड एवं भारत जन आरोग्य योजना का पत्र का होना आवश्यक है। भारत जन आरोग्य योजना का पत्र श्रमिकों को आशा कार्यकर्ता के माध्यम से प्राप्त हो सकता है। निबंधित श्रमिकों के स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए पहले से भी कई योजनाएं चलाई जा रही है। जिसके तहत तीन हजार रुपया सालाना दिया जाता है।


श्रम संसाधन विभाग द्वारा जारी निर्देश के आलोक में जिले में निबंधित श्रमिकों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ दिया जाएगा। योजना के तहत श्रमिकों का गोल्डन कार्ड बनाने की प्रक्रिया की जा रही है, पूनम कुमारी, श्रम अधीक्षक, जमुई।

Share this story