Main

Today's Paper

Today's Paper

नवजात गहन चिकित्सा इकाई का जायजा जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने लिया

चिकित्सा इकाई

नवादा। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ अशोक कुमार ने अनुमंडलीय अस्पताल पहुंचकर नवजात गहन चिकित्सा इकाई(पीकू) की तैयारियों का मुआयना किया। इस दौरान उन्होंने पीडियाट्रिक वार्ड, ब्लड स्टोरेज यूनिट व एनआरसी आदि को भी देखा।

उन्होंने बताया कि इसी महीने जून के अंतिम सप्ताह तक नवजात गहन चिकित्सा इकाई (पीकू), पीडियाट्रिक वार्ड व ब्लड स्टोरेज यूनिट का शुभारंभ हो जाएगा। इस मामले में डीएम द्वारा तिथि की घोषणा की जाएगी। शुभारंभ के बाद रजौली के लोगों को जल्द ही इन सभी सुविधाओं का लाभ मिलने लगेगा।

गौरतलब है कि 1 जून को डीएम यशपाल मीणा ने अनुमंडलीय अस्पताल की जांच के दौरान एक सप्ताह बाद 10 जून को नवजात गहन चिकित्सा इकाई (पीकू) का शुभारंभ किए जाने के बात कही थी। जांच के दौरान उन्होंने निजी ऑपरेटर को पीकू के अंदर इलेक्ट्रिक से संबंधित तकनीकी कमियों को दुरुस्त करने का निर्देश दिया था। लेकिन अपरिहार्य कारणवश 10 जून को पीकू का शुभारंभ नहीं हो सका। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने बताया कि पीकू के शुभारंभ से पहले पीकू में नव पदस्थापित चिकित्सक डॉ श्रीकांत आजाद, अस्पताल के चिकित्सकों व सपोर्टिंग स्टाफ जीएनएम आदि को गुरुवार को पीकू से संबंधित प्रशिक्षण दिया गया है।

इसके अलावा उन्होंने अस्पताल के फ‌र्स्ट फ्लोर पर पीकू के ठीक सामने स्थित पीडियाट्रिक वार्ड का भी मुआयना किया। 40 बेड का पीडियाट्रिक वार्ड बनना है, लेकिन इस समय शुभारंभ के लिए प्रतीक्षारत पीडियाट्रिक वार्ड में 26 बेड की सुविधा लोगों को प्रदान की जाएगी। इसके अलावा बीते वर्ष 2020 में ब्लड स्टोरेज यूनिट शुभारंभ किए जाने के लिए लाइसेंस का नवीनीकरण हुआ था। लेकिन नवीनीकरण के 6 महीने बीत जाने के बाद भी अस्पताल में ब्लड स्टोरेज यूनिट का शुभारंभ नहीं हुआ। साथ ही जिस कक्ष में ब्लड स्टोरेज यूनिट का शुभारंभ होना था, वहां ताला लगा हुआ था।

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने अस्पताल में उपस्थित चिकित्सक, हॉस्पिटल मैनेजर आदि के साथ विचार-विमर्श कर बंद पड़े कक्ष को खुलवाया। कक्ष के अंदर फ्रीजर आदि को देखा।जल्द ही ब्लड स्टोरेज यूनिट के शुभारंभ कराए जाने की बात कही। इसके अलावे पोषण पुनर्वास केंद्र का भी मुआयना किया। मौके पर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ बी एन चौधरी, डॉ धीरेंद्र कुमार, डॉ श्याम नंदन, डॉ राघवेंद्र भारती, हॉस्पिटल मैनेजर मो इरशाद आलम, केयर इंडिया के डिस्ट्रिक्ट टीम लीडर नरेंद्र सिंह, डिस्ट्रिक्ट टीम ऑफिसर फैसिलिटी कॉमन जसरौटिया, शिफ्ट ट्रेनर पारुल देवट, जीविका के बीपीएम कंचन कुमार, केयर इंडिया के मैनेजर श्रीधर मिश्रा आदि उपस्थित थे।

Share this story