Main

Today's Paper

Today's Paper

लॉकडाउन का जिले में सख्ती से पालन कराया जाएगा : डीएम

डीएम

नवादा। जिलाधिकारी यशपाल मीणा ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सभी लोग लॉकडाउन का पालन करें। बेवजह घर से नहीं निकलें। 5 से 15 मई तक बिहार सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा की है। जिसका जिले में सख्ती से पालन कराया जाएगा। सभी लोग सरकारी नियमों का पालन करें और संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन का सहयोग करें।

वे मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के माध्यम से मीडिया प्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे थे। डीएम ने कहा कि कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए प्रशासनिक स्तर पर कई कदम उठाए जा रहे हैं। पिछले कुछ दिनों में एक्टिव केस की संख्या में कमी आई है।

डीएम ने बताया कि कुछ दिनों में यह देखने को मिला है कि लोग बीमार पड़ने पर निजी अस्पताल में जाकर इलाज करा रहे हैं या फिर घर में रह जा रहे हैं। इस दौरान ऑक्सीजन लेबल गिरने और समस्या गंभीर होने पर ऐसे मरीज सदर अस्पताल पहुंच रहे हैं। यह काफी परेशानी भरा सबब हो सकता है। शुरुआती दौर में ही बीमार पड़ने पर तत्काल सरकारी अस्पताल में संपर्क करें।

यहां इलाज से संबंधित सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं। पर्याप्त संख्या में ऑक्सीजन सिलेंडर, जरुरी दवाईयां उपलब्ध हैं। गंभीर मरीजों के इलाज के लिए कोविड हेल्थ केयर सेंटर बनाया गया है। चिकित्सकों की पूरी टीम है। इसलिए किसी प्रकार की समस्या होने पर फौरन संपर्क करें।


डीएम ने कहा कि जिले में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है। सभी जरुरतमंद मरीजों को ससमय ऑक्सीजन मुहैया कराई जा रही है। ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी और जमाखोरी पर नजर है। इसके लिए विशेष टीम का गठन किया गया है। जिले में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने के लिए जमीन की तलाश की जा रही है।

जल्द ही ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना होगी। ताकि लोगों को कभी ऑक्सीजन की किल्लत नहीं हो। डीएम ने लोगों से अपील करते हुए बीमार पड़ने पर सिटी स्कैन कराने के पीछे नहीं भागें। इसमें रेडिएशन काफी अधिक होता है। इसलिए एक्स-रे कराएं।

लॉकडाउन की चर्चा करते हुए डीएम ने कहा कि इस अवधि में आवश्यक सेवाओं को छोड़ शेष सभी सरकारी दफ्तर बंद रहेंगे। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन, पुलिस, सिविल डिफेंस, विद्युत आपूर्ति, जलापूर्ति, स्वच्छता, फायर ब्रिगेड, स्वास्थ्य, पशु स्वास्थ्य, आपदा प्रबंधन, कोषागार एवं उनसे संबंधित वित्त विभाग के कार्यालय, दूर संचार, डाक विभाग से संबंधित कार्यालय यथावत कार्य करेंगे। न्यायिक प्रशासन के संबंध में उच्च न्यायालय द्वारा लिया गया निर्णय लागू होगा। इसके अलावा दुकानें, वाणिज्यिक एवं अन्य निजी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे।

केवल बैंकिग, बीमा एवं एटीएम संचालन से संबंधित प्रतिष्ठान, औद्योगिक एवं विनिर्माण कार्य से संबंधित प्रतिष्ठान, सभी प्रकार के निर्माण कार्य, ई-कॉमर्स एवं कूरियर सर्विस से जुड़ी सारी गतिविधियां, कृषि एवं इससे जुड़े कार्य, प्रिट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, टेलीकम्युनिकेशन, इंटरनेट सेवाएं, ब्रॉडकास्टिग एवं केबल सेवाओं से संबंधित गतिविधियां, पेट्रोल पंप, एलपीजी पेट्रेलियम आदि से संबंधित खुदरा एवं भंडारण प्रतिष्ठान खुले रहेंगे।

Share this story