Main

Today's Paper

Today's Paper

देश के सभी राज्यों में जीकेसी की कमिटी गठित- राजीव रंजन प्रसाद

राजीव रंजन प्रसाद

पटना। वैश्विक स्तर पर कायस्थों के सामाजिक, शैक्षणिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक उत्थान के लिये प्रतिबद्ध ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) अपने संगठनात्मक ढांचा को मजबूत करने को लेकर बृहत पैमाने पर सदस्यता अभियान चलाने पर जोर देगा,जिसके तहत आगामी छह माह में पूरे देश में 20 लाख नये सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया है।

जीकेसी के ग्लोबल अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद की अध्यक्षता में वर्चुअल मीटिंग का आयोजन किया गया, जिसमें संगठन से जुड़े सभी जोनल पदाधिकारी, सभी प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेश अध्यक्ष, प्रभारी और अन्य अधिकारियों ने शिरकत की। वर्चुअल मीटिंग का संचालन डिजिटल-तकनीकी प्रकोष्ठ के ग्लोबल अध्यक्ष आनंद कुमार सिन्हा ने किया। इस अवसर पर सभी लोगो ने ग्लोबल अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद के नेतृत्व में कायस्थ समाज के सर्वांगीण विकास और उत्थान के लिए उनकी हर संभव सहायता देने का संकल्प लिया। राजीव रंजन प्रसद ने बृहत स्तर पर पूरे देश भर में सदस्यता अभियान चलाने पर जोर दिया और सभी प्रदेश अध्यक्ष और प्रभारियों को अगले छह माह के अंदर 20 लाख नये सदस्य बनाने का निर्देश दिया है।

श्री प्रसाद ने बताया कि सदस्यता अभियान बनाने में संगठन की ओर से युवाओं और महिलाओं को जोड़ने पर विशेष जोर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि 20 लाख नये सदस्य बनाने का लक्ष्य हमारे सदस्यता अभियान के पहले चरण का है, जब यह पूरा हो जाएगा तो दूसरे चरण में इतनी ही संख्या में और सदस्य बनाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि देश के करीब सभी राज्यों में जीकेसी के प्रदेश अध्यक्ष और कार्यकारिणी समिति का गठन कर दिया गया है और वहां जिला तथा प्रखंड स्तर पर कमेटियां गठित की जा रही हैं। 

उन्होंने कहा कि हम सभी को मिलकर जीकेसी की सभी इकाई को विस्तार करने की जरूरत है। नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में आगामी 19 दिसंबर को आयोजित होने वाले विश्व कायस्थ महासम्मेलन की तैयारी के लिेये रोडमैप तैयार है और सभी राज्यों को विशेष रुप से तैयारी करने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी संतुलन के लिए जीकेसी की प्रबंध न्यासी श्रीमती रागिनी रंजन के मार्गदर्शन में समाज में जागरूकता लाने के उद्देश्य से गो ग्रीन अभियान की शुरूआत की गयी है। उन्होंने पर्यावरण सुरक्षा एवं उर्जा एवं जल संरक्षण पर विशेष बल दिया। हर प्रदेश इकाई में गो ग्रीन प्रभारी होंगे, जो पर्यावरण संरक्षण पर कार्य करेंगे।गो ग्रीन मुहिम को विश्वभर में चलाये जाने की जरूरत है।


उन्होंने ऊर्जा और जल संरक्षण पर भी काफी बल दिया और इसकी शुरुआत अपने घरों से करने के लिए प्रेरित किया। जल्दी ही जीकेसी ई वेस्ट मैनेजमेंट पर भी एक मुहिम चलाने जा रही है, जिसकी जानकारी जल्द ही साझा की जाएगी। उन्होंने कहा कि पर्यावरण, ऊर्जा एवं जल संरक्षण हमारा सामाजिक दायित्व है जिसका निर्वहन हम सब को करना चाहिए।
 

 अखिलेश श्रीवास्तव, मनोज श्रीवास्तव, सुनील श्रीवास्तव, कुमार शिशिर सिन्हा, दीपक अभिषेक, आनंद सिन्हा, दीपक कुमार वर्मा, निष्का रंजन, प्रियरंजन कमल किशोर, अनुराग सक्सेना, रीना कुमार, माया कुलश्रेष्ठ, वीरेंद्र श्रीवास्तव, आलोक श्रीवास्तव, डॉ नम्रता आनंद, प्रेमकुमार, सुनील कुमार, शैलेन्द्र श्रीवास्तव, स्वेता सुमन, प्रभाकर श्रीवास्तव, सुमित शरण, राजीव कुमार सिन्हा, सौरभ वर्मा, शशिकांत श्रीवास्तव, मुकुल श्रीवास्तव वर्चुअल मीटिंग में शामिल थे।

Share this story