Main

Today's Paper

Today's Paper

Tarunmitra Banner

मुख़्तार जैसे अपराधी व अनिल देशमुख जैसे भ्रष्टाचारी को क्यों बचाना चाहती है कांग्रेस : राजीव रंजन

पटना। कांग्रेस पर हमला करते हुए भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव रंजन ने कहा “ पूर्वांचल में दहशत का पर्याय माने जाने वाले मुख्तार अंसारी की पंजाब में खातिरदारी के बाद अब कांग्रेस की सरकार मुम्बई के व्यवसायियों से 100 करोड़ का हफ्ता वसूलने वाले नेता अनिल देशमुख को बचाने में जुट गयी है. खबरों के मुताबिक अब उनकी पैरवी कांग्रेस के दिग्गज नेता और गाँधी परिवार के करीबी माने जाने वाले अभिषेक मनु सिंघवी करेंगे. कांग्रेस को यह बताना चाहिए कि आखिर उसका ‘हाथ’ हमेशा ही घोटालेबाजों और अपराधियों के माथे पर क्यों रहता है? आखिर क्यों उन्हें इनके द्वारा सताये गये निर्दोष लोगों का दर्द नहीं दिखता?”

उन्होंने कहा “ राहुल गाँधी के नेतृत्व में कांग्रेस अब ऐसी पार्टी बन चुकी है, जिसका देश और जनता से कोई सरोकार ही नहीं है. कई मुद्दों पर इस पार्टी का स्टैंड कभी चीन के समर्थन में तो कभी पाकिस्तान के साथ नजर आ चुका है. खुद राहुल गांधी कभी भारतीय सेना पर सवाल उठाते हैं तो कभी सबूत मांगते हैं. कई बार तो ऐसा लगता है कि वे भारत की मुख्य विपक्षी पार्टी नहीं, पाकिस्तान के मुख्य दल की तरह बर्ताव कर रहे हैं और अब तो वह खुल कर अपराधियों और भ्रष्टाचारियों के पक्ष में खड़े होने लगे हैं. कांग्रेस को यह बताना चाहिए कि आखिर उसकी क्या मजबूरी है कि उन्हें इस तरह के लोगों का बचाव करना पड़ रहा है?”

श्री रंजन ने कहा “ इसमें कोई दो राय नही कि कांग्रेस का इतिहास काफी पुराना है और इन पर जनता ने लंबे समय तक विश्वास भी किया. लेकिन वह युग समाप्त हो चुका है. आज कांग्रेस एक ख़ास परिवार के नेतृत्व में चंद लोगों के लिए पैसा और पॉवर हासिल करने का महज एक जरिया भर बन के रह गयी है, जिसकी बानगी इनके द्वारा शासित हर राज्य में दिखाई दे देती है. यहां तक कि इनके चीन से पैसे खाने की पोल भी सबके सामने खुल चुकी है. इससे साफ़ पता चलता है कि इस पार्टी के पास अब कोई विचारधारा नहीं बची और पैसे के लिए यह लोग किसी भी हद को पार सकते हैं.”
 

Share this story