UKADD
Monday, October 25, 2021 at 5:10 PM

किसानों को पूंजीपतियों के हाथों बेचना चाहती है केन्द्र सरकार : रामचंद्र सिंह 

शाहजहांपुर। केंद्र सरकार के द्वारा लाये गए किसान बिल व भूमि अधिग्रहण के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रयतावादी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामचंद्र सिंह के साथ सैकड़ो किसानों ने शाहजहांपुर में जोरदार प्रदर्शन किया। इस दौरान सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी भी की गई। व्यक्ताओं ने किसानों से जुड़े मुद्दों को उठाकर सरकार को अड़े हाथों लिया। किसानों के आक्रोश को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात रहा।
       सोमवार को पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रयतावादी के द्वारा किसानों की महापंचायत बुलाई गई। किसानों ने एक सुर में सरकार द्वारा लाये गए किसान विधयेक के खिलाफ आवाज बुलंद कर सरकार को बिल वापस लेने की चेतावनी दी। इस मौके पर संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामचंद्र सिंह ने कहा कि सरकार द्वारा सदन में पारित किसान बिल पूर्ण रूप से किसान विरोधी है। इस बिल के आने से किसानों का कोई भला होने वाला नही है बल्कि यह बिल पूंजीपतियों और जमाखोरों के द्वारा संचालित किया जाएगा। साथ ही इस बिल के आने से भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीयतावादी इस बिल का पूर्ण रूप से विरोध करती है। इसके अलावा रामचंद्र सिंह ने बताया कि जिला अस्पताल में गुंडाराज चल रहा है। जिला अस्पताल में पैसे की माँग की जाती है। पैसे न देने पर वहां का स्टाफ मारपीट करता है। हमारे कई कार्यकर्ताओ की जिला अस्पताल में पिटाई हुई और हमारी रिपोर्ट तक नही लिखी गयी। अगर कार्यवाही नही की गई तो किसान सड़को पर उतरकर उग्र आंदोलन करेगा।