UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 3:09 AM

कोयला संकट को विधानसभा में उठायेंगे: कांग्रेस

लखनऊ। भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हो चुकी है, उत्तर प्रदेश की जनता ने इतने भरोसे के साथ वोट दिया था उत्तर प्रदेश को विकास के रास्ते पर ले जाएंगे, लेकिन भारतीय जनता पार्टी कि सरकार की अदूरदर्शिता और मुख्यमंत्री की अक्षमता की वजह से आज प्रदेश में भारी बिजली संकट पैदा हो गया है। भाजपा सरकार की गलती की वजह से खरीदी जा रही मंहगी का बोझ आम जनमानस पर कांग्रेस पार्टी बर्दाश्त नहीं करेगी। आगामी एक दिवसीय विधानसभा सत्र में कांग्रेस पार्टी इस मुद्दे को विधानसभा में उठायेगी। कांग्रेस पार्टी मांग करती है वर्तमान में जो उत्तर प्रदेश में बिजली का संकट और कोयले की कमी पैदा हुई है उसको लेकर शीघ्र ही एक जांच कमेटी बनाई जाए और जो भी दोषी लोग हैं उन्हें दंडित किया जाए। प्रदेश कांग्रेस के डिजिटल मीडिया संयोजक व प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने बयान जारी कर कहा कि सरकार की अदूरदर्शिता के कारण प्रदेश में समय रहते कोयले की खरीद और भण्डारण नहीं किया गया, जिससे उत्पन्न बिजली के संकट को आम प्रदेश का जनमानस भुगत रहा है साथ में ग्रामीण अंचल में छोटे-मझोले उद्योग धंधों पर भारी असर पड़ा है। कहा कि भाजपा सरकार की गलती की वजह से जनता की मेहनत की कमाई के राजस्व से महंगी बिजली खरीदनी पड़ रही है। इस अतिरिक्त राजस्व नुकसान के लिए सीधे भाजपा सरकार दोषी है। प्रदेश में औसतन 20000 मेगावाट की रोजाना डिमांड के सापेक्ष उत्पादन पहले से कम होने बावजूद सरकार ने उत्पादन बढ़ाने को लेकर कोई ठोस प्रयास नहीं किये।