Saturday, November 27, 2021 at 2:26 AM

जिला प्रभारी मंत्री सम्राट चौधरी ने जिले के विकास योजनाओं का किया समीक्षा डीएम ने कहा बाढ़ से 56309 हेक्टेयर फसल की हुई क्षति

विधायक सरावगी ने आयुष्मान भारत के लिए चयनित अस्पताल के जांच का किया मांग 
दरभंगा (तरुण मित्र)। समाहरणालय परिसर स्थित अंबेडकर सभागार में पंचायत राज विभाग के मंत्री सह जिला प्रभारी मंत्री सम्राट चौधरी की अध्यक्षता में जिले के विभिन्न विभागों के कार्यों की प्रगति एवं 15 सितम्बर की हुई बैठक का अनुपालन प्रतिवेदन की समीक्षा हुई। जिसमें डीएम डॉ.त्यागराजन एस एम ने कहा कि बाढ़ के दौरान 56 हजार 309 हेक्टेयर में फसल क्षति हुई। जिसमें 7 हजार 627 हेक्टेयर पानी के कारण परती रह गई भूमि भी है। फसल क्षति मुआवजा के लिए आवेदन की तिथि 30 नवम्बर तक बढ़ा दिया गया है। अबतक 64 हजार किसानों ने फसल क्षति मुआवजा राशि के लिए आवेदन किये हैं। बाढ़ प्रभावित 3 लाख 32 हजार 644 परिवारों के बीच पीएफएमएस के माध्यम से 6-6 हजार रूपये की राशि उपलब्ध करायी गयी है। 500 परिवारों की सूची पुनः प्राप्त हुई है जिसका सत्यापन कराया जा रहा है। कोविड टीकाकरण में दरभंगा जिला बिहार में छठे स्थान पर है। अबतक 76 प्रतिशत् लोगों को प्रथम डोज तथा 46 प्रतिशत् लोगों को द्वितीय डोज का टीका लगाया जा चुका है। छठ महापर्व के अवसर पर घर आने वाले सभी लोगों की कोविड टेस्टिंग करायी गयी। नवम्बर महीने में 1 लाख 28 हजार लोगों का कोविड टेस्टिंग किया गया है। जिले में कोविड पॉजिटिव की संख्या शून्य है। बैठक के दौरान कुशेश्वरस्थान के विधायक अमन भूषण हजारी ने कुशेश्वरस्थान के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी की कार्यशैली एवं व्यवहार पर आपत्ति दर्ज करायी तथा उनके स्थानांतरण का प्रस्ताव दिया। नगर विधायक संजय सरावगी ने आयुष्मान भारत के अन्तर्गत सूचीबद्ध सभी 17 अस्पतालों की जांच कराने की बात कही। एसएसपी बाबूराम ने बताया कि मद्यनिषेध अभियान के अन्तर्गत वर्ष 2021 में 1350 केस दर्ज किये गए हैं। जबकि 2020 में 1280 केस दर्ज हुए थे। 2021 में अबतक 1800 गिरफ्तारी की गयी है, जबकि 2020 में 1567 गिरफ्तारी हुई थी। 2021 में 25 हजार 900 लीटर देशी शराब एवं 1 लाख 30 हजार लीटर विदेशी शराब जप्त की गयी है। अबतक 11 चौकीदारों के विरूद्ध कार्रवाई की गयी है। 4 को सेवामुक्त की गयी है। 1 दारोगा को भी बर्खास्त किया गया है। डीडीसी तनय सुल्तानिया ने बताया कि आवास योजना के तहत वर्ष 2016 से अबतक 1 लाख 99 हजार 561 आवासों को स्वीकृति प्रदान की गयी है। जिनमें से 1 लाख 56 हजार 298 आवासों को पूर्ण कराया गया है।  बाढ़ के कारण कुशेश्वरस्थान पूर्वी एवं किरतपुर में प्रगति धीमी रही, फिर भी नवम्बर तक 90 प्रतिशत् की उपलब्धि हुई है। विगत वर्ष के दौरान 85 हजार आवास पूर्ण किये गये है। इस वर्ष नवम्बर तक 70 हजार 400 आवासों को पूर्ण कराया गया है। आवास प्लस योजना के अन्तर्गत कराये गये सर्वें में 55 हजार 243 आवासों को चिन्ह्ति किया गया है। बैठक में सांसद गोपालजी ठाकुर एवं माननीय विधायक के ने वरूणा-रसियारी पथ (105 किलोमीटर) सड़क निर्माण, देकुली – शंकर लोहार पथ, अशोक पेपर मिल -चिकनी पथ, कुंवारी-सपहा पथ, सुपौल-बौराम पथ, दोनार-सिघही पथ, आरओबी का शीघ्र निर्माण, पश्चिमी कोशी तटबंध पर सड़क निर्माण, बिरौल-गंडोल-खानपुर पथ निर्माण के साथ-साथ प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के सभी सड़कों की मरम्मति करवाने की मांग की। बैठक में सांसद गोपाल जी ठाकुर, विधान पार्षद अर्जुन सहनी, नगर विधायक संजय सरावगी, विधायक रामचन्द्र प्रसाद, विधायक मिश्री लाल यादव, विधायक डॉ. मुरारी मोहन झा, डॉ. विनय कुमार चौधरी, स्वर्णा सिंह, अमन भूषण हजारी, नगर आयुक्त मनेश कुमार मीणा, एसडीओ सदर स्पर्श गुप्ता आदि मौजूद थे।