Saturday, January 22, 2022 at 3:02 AM

जिलाधिकारी इटावा ने सविंधान दिवस पर अपने अधीनस्थ को सविंधान की शपथ दिल वाई

इटावा जिलाधिकारी श्रुति सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में भारत के संविधान के प्रस्तावना का पाठन व मौलिक कर्तव्यों से सम्बन्धित शपथ दिलाते हुये कहा कि मैं सत्यनिष्ठा से विधि द्वारा स्थापित भारत के संविधान के प्रति सच्ची श्रद्धा और निष्ठा रखूंगा, मैं भारत की प्रभुता और अखंडता अक्षुण्ण रखूंगा। उन्होने कहा कि हम सब अपने कर्तव्यों का निर्वहन भय या पक्षपात, अनुराग या द्वेष के बिना, सभी लोगों के प्रति संविधान और विधि के अनुसार कार्य करेंगे। उन्होने कहा कि देश के संविधान का उद्देश्य नागरिकों की स्वतंन्त्रता और गरिमा बनाए रखना है, संविधान में प्रत्येक व्यक्ति को अधिकार दिये हैं।
उन्होने कहा कि हमारे संविधान में सभी नागरिकों को बराबरी का दर्जा प्रदान किया है, हम सबका दायित्व है कि भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न समाजवादी पंत निर्पेक्ष लोकतन्त्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए तथा देश के समस्त नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक न्याय, विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म और उपासना की स्वतंत्रता, उनकी प्रतिष्ठा और अवसर की समता प्राप्त कराने के लिए तथा सभी व्यक्तियों की गरिमा और राष्ट्र की एकता सुनिश्चित कराने वाली बन्धुता बढ़ाने के लिए दृढ़ संकल्पित होकर कार्य करेंगे। उन्होने मौलिक कर्तव्यों की शपथ दिलाते हुये कहा कि संविधान में दिये गये मूल कर्तव्यों का पालन सभी को करना होगा, संवैधानिक आदर्शों, संस्थाओं, राष्ट्र ध्वज, राष्ट्रीय प्रतीकों का आदर करना होगा, देश की संप्रभुता, अखंडता की रक्षा करनी होगी, महिलाओं का सम्मान करना होगा, हिंसा से दूर रहकर बंन्धुता बढ़ानी होगी, सार्वजनिक सम्पत्ति की रक्षा करनी होगी, सामूहिक व व्यक्तिगत गतिविधियों में उत्कृष्टता बढ़ानी होगी, सबको शिक्षा के अवसर प्रदान करने होंगे।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि0रा0 जय प्रकाष,सिटी मजिस्टेªेट राजेन्द्र प्रसाद, उपजिलाधिकारी सदर राजेष कुमार षर्मा, उप जिलाधिकारी न्यायिक मलखान सिंह,अति. उप जिलाधिकारी गुलाब सिंह वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, प्रशासनिक अधिकारी सहित कलेक्ट्रेट के अन्य अनुभाग प्रभारी, कर्मचारी आदि उपस्थित रहे।