UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 7:58 PM

दीवाली के अवसर पर आतिशबाजी की दुकानों को लेकर जिलाधिकारी ने जारी किए निर्देश

बरेली।  जिलाधिकारी नितीश कुमार ने आगामी दीपावली पर्व पर जनपद के विभिन्न निर्धारित स्थानों पर आतिशबाजी की थोक एवं फुटकर विक्रेताओं की दुकानों/प्रतिष्ठानों से आतिशबाजी की बिक्री के सम्बंध में दिशा निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने इन निर्देशों के सम्बंध में कहा है कि इनका कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए।जिलाधिकारी ने नगर मजिस्ट्रेट, समस्त अपर नगर मजिस्ट्रेट, समस्त उप जिलाधिकारी तथा समस्त पुलिस क्षेत्राधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अपने अपने क्षेत्र में निरीक्षण कर यह सुनिश्चित किया जाए कि आतिशबाजी निर्माण स्थल एवं बिक्री स्थल निर्धारित स्थानों एवं निर्धारित चौहद्दी में किया जा रहा हो।
यदि निर्धारित स्थलों के अतिरिक्त अन्य किसी स्थान पर आतिशबाजी की बिक्री अथवा भण्डारण या आतिशबाजी का निर्माण होता पाया जाए तो सम्बन्धित के विरुद्ध विस्फोटक अधिनियम-2008 के अन्तर्गत तत्काल वैधानिक कार्यवाही की जाए। जिलाधिकारी नितीश कुमार ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में आतिशबाजी की फुटकर बिक्री स्थलों के चयन का उत्तरदायित्व सम्बन्धित मजिस्ट्रेट/क्षेत्राधिकारी का होगा। उप जिलाधिकारी ग्रामीण क्षेत्रों में परम्परागत रूप से अस्थायी लाइसेंस जारी करेंगे।समस्त फुटकर विक्रेताओं को अपनी दुकान का बीमा कराना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित मजिस्ट्रेट बीमा सम्बन्धी औपचारिकताएं पूर्ण कराना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि फुटकर लाइसेंस जारी करने से पूर्व आवेदकों से अग्नि सुरक्षा व्यवस्थाओं से सम्बन्धित अग्निशमन प्रमाण पत्र प्राप्त कर लिया जाए ताकि आवेदकों को सुरक्षा उपायों/फायर एक्सटिंग्यूशर चलाने सम्बन्धी जानकारी प्रदान कराई जा सके ताकि किसी अप्रिय घटना न हो सके। अस्थाई रूप से निर्मित होने वाले आतिशबाजी के बाजार के निर्माण में किसी ज्वलनशील वस्तु कपड़ा, टेंट, लकड़ी का प्रयोग न किया जाए। अस्थाई आतिशबाजी की दुकानें फायर प्रूफ ही बनाई जाएं तथा इनके निर्माण में लोहे की चादर, पाईप का ही उपयोग किया जाए। प्रत्येक दुकान के सम्मुख अग्निशमन यंत्र बालू, पानी आदि के भण्डारण की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था की जाए। किसी भी अपरिहार्य की स्थिति में आतिशबाजी विक्रय स्थलों से सुरक्षित बाहर निकलने हेतु आवागमन के मार्ग खुले रखे जाएं तथा यह भी सुनिश्चित किया जाए कि आतिशबाजी विक्रय स्थलों/ भण्डारण स्थलों/निर्माण स्थलों के ऊपर से विद्युत लाइन न गुजर रही हो। थोक विक्रेताओं की दुकानों/प्रतिष्ठानों/भण्डारण स्थलों/आतिशबाजी निर्माण स्थलों का निरीक्षण करते समय उक्त निर्देशों का भी कड़ाई से पालन किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस लाइसेन्सी का लाइसेंस नवीनीकरण न हो, उसे आतिशबाजी सम्बन्धी कार्य न करने दिया जाए अर्थात उसके संस्थान को बन्द कराते हुए विधिक कार्यवाही की जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि इन निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि अपने अधिकार क्षेत्र में स्थित समस्त आतिशबाजी विक्रय स्थलों की जांच कर सम्बंधित मजिस्ट्रेट एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी के संयुक्त हस्ताक्षरों से निरीक्षण आख्या 15 अक्टूबर तक अवश्य उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।