UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 11:31 AM

बिजली विभाग कर रहा उत्पीडन

बिजली विभाग के उत्पीडन की चर्चा करते हुए श्री अग्रवाल ने कहा कि लॉकडाउन में व्यापारी के प्रतिष्ठान बंद होने बावजूद विभाग बिजली के बिल और उन पर ब्याज लगातार बढ रहा है। विभाग व्यापारियों से बिल और ब्याज दोनों लेकर भी उनका उत्पीड़न कर रहा है। लोकडॉउन पीरियड की बिजली के बिल सरकार द्वारा माफ नहीं किए गए ब्काया बिलो पर भारी ब्याज लगाया जा रहा है वर्तमान परिस्थिति में सरकार को कमर्शियल व औद्योगिक बिजली के बिल पे एकमुश्त समाधान योजना लाकर ब्याज की माफी व बकाया बिल को 12 किस्तों में जमा करने की सुविधा देनी चाहिए जिससे उद्योग व व्यापार जो इस समय भारी कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं उन्हें कुछ राहत मिल सके ऐसा करने से सरकार के राजस्व में भी बढ़ोतरी होगी