शनि मंदिर: अवैध बसों पर चला प्रवर्तन का डंडा
शनि मंदिर: अवैध बसों पर चला प्रवर्तन का डंडा

शनि मंदिर: अवैध बसों पर चला प्रवर्तन का डंडा

-तीन बसों को सीज किया, एक का किया चालान,-बस संचालकों को चेताया नहीं माने तो दर्ज होगी एफआइआर
लखनऊ। सड़क सुरक्षा माह के दौरान अब परिवहन विभाग की प्रवर्तन टीम ने और तेजी से अनधिकृत व अवैध बसों व माल ओवरलोडिंग वाहनों के खिलाफ कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। इसी क्रम में शुक्रवार को जब लखनऊ के प्रवर्तन दस्ते को यह पता चला कि परिवर्तन चौक के समीप एक होटल के पीछे शनि देव मंदिर के पास से अनधिकृत बसों का संचालन शुरू हो गया है, तो कुछ ही देर में टीम ने वहां पर आमद दर्ज करा दी। इस कड़ी में एआरटीओ प्रवर्तन अंकिता शुक्ला व पीटीओ आशुतोष उपाध्याय ने शनि मंदिर व उसके आसपास खड़े व सवारियां भर रहे अनधिकृत प्राइवेट बसों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई की। इनमें यूपी45टी 6159 बस, यूपी45टी3460, यूपी45टी1528 व यूपी45टी4702 के खिलाफ प्रवर्तन की कार्रवाई की गई। प्रवर्तन टीम ने जानकारी दी कि इनमें से तीन बसों को सीज किया गया जबकि एक बस का चालान किया गया। सीज की गई तीनों बसों को नजदीकी कैसरबाग डिपो में खड़ा करा दिया गया। वहीं प्रर्वतन अधिकारियों ने सीज व चालान किये गये बस संचालकों को दो टूक शब्दों में यही चेताया है कि आगे के दिनों में यदि ऐसे ही उनकी अनधिकृत बसें पकड़ी गर्इं तो उनके खिलाफ एफआइआर भी दर्ज कराया जा सकता है, बाकी परमिट निस्तारण की कार्रवाई तो दूसरे चरण की बात है।
‘19 मई से 18 जून 2022 तक चल रहे सड़क सुरक्षा माह की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए अनधिकृत बसों व ओवरलोडिंग माल वाहनों के खिलाफ लगातार प्रवर्तन की कार्रवाई की जा रही है। लखनऊ परिक्षेत्र की सभी प्रवर्तन टीमों को इस बाबत अलर्ट रहने का निर्देश दिया गया है और यह भी निर्देशित है कि रोजाना अपने-अपने रूट पर की गई प्रवर्तन कार्रवाई से जोनल मुख्यालय को अपडेट भी कराते रहें ताकि फील्ड में कहीं पर भी कार्रवाई के दौरान कोई समस्या आये तो समय रहते उसका निराकरण किया जा सके।’
निर्मल प्रसाद, डीटीसी लखनऊ जोन (परिवहन विभाग उप्र)

See also  पुलिस Police बुलाई और प्रेमी संग कर ली शादी