UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 11:14 AM

किसानों पर इतना जुल्म तो अंग्रेजों ने भी नहीं किया…

बागपत ।  भाकियू तोमर के जिलाध्यक्ष चौधरी नीटू बोक्का के नेतृत्व में किसानों ने सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक हाईवे जाम रखा। मौके पर पहुंचे पुलिस बल और तहसीलदार के साथ किसानों की हल्की नोकझोंक भी हुई। किसानों ने कहा कि लखीमपुर खीरी में किसानों को कारों से कुचलने की घटना ने दिल दहलाकर रख दिया है।

किसानों ने पुलिस और अधिकारियों के सामने सरकारी विरोधी नारे लगाकर कहा कि किसानों पर इतना जुल्म तो अंग्रेजों ने भी नहीं किया। प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन तहसीलदार को देकर जाम खोल दिया जिससे वाहनों का आगमन शुरू हुआ। बकाया गन्ना भुगतान कराने, गन्ना मूल्य दाम 450 रुपये कुंतल करने, तीनों कृषि कानून रद कराने और किसानों, बिजली मूल्य कम करने की मांग की। ऋषिपाल सिंह, राजेंद्र, बिल्लू, सुभाष, प्रमोद, लोकेश आदि किसान मौजूद रहे। 30 अक्टूबर को आशीर्वाद पथ में पहुंचने का आह्वान किया

दाहा गांव में क्षेत्रवासियों की बैठक में पूर्व विधायक वीरपाल राठी ने 30 अक्टूबर को जनता वैदिक कालेज बड़ौत में होने वाले रालोद के आशीर्वाद पथ कार्यक्रम में पहुंचने का आह्वान किया। ब्रह्मपाल के आवास पर आयोजित बैठक में पूर्व विधायक वीरपाल राठी ने कहा कि भाजपा शासन काल में आमजन त्रस्त है। किसान मजदूर ही नहीं आमजन महंगाई की मार झेलने पर मजबूर है। किसानों के गन्ने का वाजिब दाम नहीं दिलाया जा रहा, बकाया भुगतान अभी तक नहीं मिल पाया है। किसान दिल्ली बार्डर पर धरना देकर बैठे है, लेकिन सरकार किसानों की सुध लेने को तैयार नहीं है।