भोजपुर: जिले में कार्यक्रम जारी कर दिया गया। गुरुवार को नागर प्रचारणी के सभागार में आत्मा व कृषि विभाग की ओर से संयुक्त रूप से खरीफ महाभियान कर्मशाला सह प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसका उद्घाटन जिला कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार, बामेती निदेशक डा. जितेंद्र प्रसाद, कृषि वैज्ञानिक सह निदेशक डा. पीके द्विवेदी ने संयुक्त रूप से किया। कृषि पदाधिकारी ने कहा कि खरीफ महाभियान के प्रचार प्रसार के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने रथ रवाना किया है।

इस क्रम में प्रखंड स्तरीय प्रशिक्षण सफल बनाने के लिए कर्मशाला में किसानों के लिए विभाग की ओर से चलायी जा रहीं विभिन्न योजनाओं की पूरी जानकारी दी गई। पैडी ट्रांसप्लांटर से धान की रोपनी और बदलते मौसम में धान की सीधी बुवाई के तरीके और इसके फायदे की जानकारी दी गई। बिचड़ा बोने और रोपनी करने से पहले खर-पतवार के नियंत्रण और खेत की तैयारी की बारीकियां बतायी गई। बीज वितरण योजना, हरित क्रांति उपयोजना, मुख्यमंत्री तीव्र बीज विस्तार योजना आदि के बारे में जानकारी दी गई।

इस मौके पर वरीय कृषि वैज्ञानिक ने भूमि समतलीकरण, वैज्ञानिक सच्चिदानंद सिंह ने फसल अवशेष प्रबंधन व नीलेश कुमार ने धान की सीधी बुआई पर प्रकाश डाला। आत्मा के परियोजना निदेशक सुशांत कुमार ने कृषि के विभिन्न योजना और यांत्रिकरण योजना पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन आत्मा के उप परियोजना निदेशक राजीव रंजन राणा ने किया।