(Farmer)

ई-टेलीमेडिसिन इलाज में प्रथम स्थान

मधुबनी । ई-टेलीमेडिसिन इलाज में मधुबनी राज्य में सबसे आगे चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से आम लोगों को सुलभ तरीके से स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के दिशा में ई-संजीवनी कार्यक्रम के तहत ई-टेलीमेडिसिन सुविधा बहाल की गई है। इसके क्रियान्वयन में अप्रैल में मधुबनी जिला ने राज्य में प्रथम स्थान हासिल किया है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की राज्यस्तरीय बैठक में सीएस डा. सुनील कुमार झा के कार्यों की सराहना की गई है। बता दें कि ई-टेलीमेडिसिन के माध्यम से जिले में मार्च में 18 हजार मरीजों का इलाज किया गया। वहीं, मई में अब तक 38 हजार 125 लोगों का विशेषज्ञ चिकित्सकों की निगरानी में इलाज किया गया।

जिले के बिस्फी प्रखंड के चिकित्सक डा. बासित अली द्वारा राज्य में सबसे अधिक मरीजों का कंसल्टेंसी के जरिए इलाज किया गया है। बता दें कि उप स्वास्थ्य केंद्रों के ओपीडी में स्पोक्स सेंटर के माध्यम से ई-टेलीमेडिसिन के द्वारा जिले के सभी प्रखंडों में कुल 423 स्पोक्स सेंटर बनाए गए हैं। मरीजों के जांच के लिए 65 हब्स बनाए गए हैं। विशेष परिस्थिति में मरीजों को इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भेजा जाता है।

प्रत्येक बुधवार व शुक्रवार को उपलब्ध होती ई-टेलीमेडिसीन सुविधा :

सिविल सर्जन डा. सुनील कुमार झा ने बताया जिले में ग्रामीण स्तर तक सप्ताह में दो दिन बुधवार व शुक्रवार को ई-टेलीमेडिसीन के माध्यम से लोगों की स्वास्थ्य जांचकर दवाएं उपलब्ध कराई जा रही है।

See also  अग्निपथ को लेकर तेजस्वी के स्टैंड के साथ आए मांझी