शादी का कार्ड बांटने निकली महिला को अगवा कर किया गैंगरेप

मध्य प्रदेश। जिले की एक 18 वर्षीय महिला ने आरोप लगाया है कि जब वह शादी के लिए निमंत्रण पत्र बांटने जा रही थी, तभी उसका अपहरण कर लिया गया। फिर उसके साथ तीन लोगों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। महिला ने आरोप लगाया कि दुष्कर्म के बाद उसे मध्य प्रदेश के दतिया में किसी व्यक्ति को बेच भी दिया गया था। हालांकि, अब उसे छुड़ा लिया गया है।

पुलिस ने सोमवार को घटना की जानकारी देते हुए बताया कि, शिकायत में महिला ने आरोप लगाया है कि 21 अप्रैल को होने वाली अपनी शादी के कार्ड बांटने जा रहे गांव के ही तीन युवकों ने 18 अप्रैल को उसका अपहरण कर लिया। इसके बाद, आरोपी उसे एक राजनीतिक दल के नेता के पास ले गया। जहां से उसे मध्य प्रदेश के दतिया जिले के एक गांव में किसी और के साथ रहने के लिए मजबूर किया गया।

शिकायत में महिला ने यह भी आरोप लगाया कि आरोपियों ने 18 अप्रैल को अपहरण करने के बाद उसके साथ कई दिनों तक अलग-अलग जगहों पर दुष्कर्म किया। फिर उसे एक नेता को सौंप दिया, जिसने उसे कुछ दिनों के लिए झांसी में रखा। पुलिस के मुताबिक, महिला को झांसी से ही मध्य प्रदेश के दतिया जिले के एक गांव में उसकी मर्जी के खिलाफ किसी और के साथ रहने के लिए भेज दिया गया।

दतिया में रहने के दौरान किसी तरह से वह अपने पिता को घटना के बारे में जानकारी देकर अपने पास बुला सकी। जिसके बाद स्थानीय पुलिस की मदद से उसे दतिया इलाके के पथरी गांव से छुड़ा लिया गया था। टिहरौली अंचल अधिकारी (सीओ) अनुज सिंह ने बताया कि महिला का कुछ लोगों के द्वारा अपहरण, दुष्कर्म व बेचने की शिकायत पर संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

See also  पीएम मोदी ने किसानों को दी आजादी और ताकत, 99 फीसद किसान खुश