Monday, December 6, 2021 at 4:35 AM

अनुसूचित जाति के पात्र लाभार्थियों को आवासीय पट्टे दिए

इटावा । थानों में अनुसूचित जाति के लोगों के मुकदमें लिखने में ध्यान नहीं दिया जा रहा है। पीड़ित अनुसूचित जाति के लोगों के हल्की धाराओं में मुकदमें लिखने के कारण दोषी बरी हो जाते हैं, जिससे उनके हौसले बढ़ जाते हैं। इसलिए पूरी तरह से जांच पड़ताल कर सुसंगत धाराओं में मुकदमे लिए जाएं और दोषियों से सख्ती से पेश आएं। सुमेर सिंह किला विशिष्ट अतिथि गृह में आयोजित बैठक में उपाध्यक्ष ने समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित येाजनाओं मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, पारिवारिक लाभ योजना, छात्रवृत्ति वितरण आदि के संबंध में भी विस्तार से जानकारी करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना मुख्यमंत्री की प्राथमिकताओं में है। शासन द्वारा जो लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं, उन लक्ष्यों की पूर्ति के लिए ब्लाक स्तर, नगर पंचायत स्तर पर पात्र लाभार्थियों का चयन कर शत प्रतिशत सामूहिक विवाह कराए जाएं। बैठक में सिटी मजिस्ट्रेट राजेंद्र प्रसाद, जिला समाज कल्याण अधिकारी रविद्र कुमार शशि, सीओ सिटी राजीव प्रताप सिंह आदि उपस्थित रहे।

उपाध्यक्ष मिथिलेश कुमार ने दीन दयाल उपाध्याय आवासीय आश्रम पद्वति विद्यालय कांधनी का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान छात्रों हेतु विद्यालय में बन रहे भोजन में दाल, चावल, रोटी की गुणवत्ता को देखा। दाल के भगौने को खुलवाकर देखा, जिससे वह संतुष्ट दिखे। उन्होंने छात्रों से पठन पाठन के संबंध में जानकारी की तो छात्रों द्वारा बताया कि विद्यालय में पढ़ाई ठीक हो रही है। लाइब्रेरी, स्टोर रूम का भी निरीक्षण कर सब्जी में प्रयोग किए जाने मसाले, तेल, नमक आदि के संबंध में जानकारी की। प्रधानाचार्य निर्मल चंद्र बाजपेयी ने बताया कि विद्यालय में 490 छात्रों की क्षमता है, जिसमें 482 छात्र पंजीकृत हैं,