UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 8:48 PM

डेंगू का कोई नया मामला न मिलने पर राहत की सांस ली

औरैया ।  स्वास्थ्य टीमों ने गांव बाकरपुर, उद्यमपुर व बखरिया में शिविर लगाकर 110 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। कार्ड के जरिए 45 मलेरिया जांच की गई। 11 मरीजों की की डेंगू जांच रिपोर्ट निगेटिव आई। कुछ मरीजों की टाइफाइड जांच भी निगेटिव मिली। कोविड जांच में लिए गए कुछ एंटीजन सैंपल निगेटिव मिले। कुछ के आरटीपीसीआर सैंपल की रिपोर्ट प्रतीक्षारत है। जिला मलेरिया टीम ने शहर के मुहल्ला ओमनगर में घर-घर जाकर लार्वा सर्वे किया। जिला मलेरिया अधिकारी डा. लाल साहब सिंह ने एंटी लार्वा दवाओं का छिड़काव कराकर लोगों को बचाव के उपाय सुझाए। मुख्य चिकित्साधिकारी डा.अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि स्वास्थ्य व मलेरिया टीमें प्रभावित क्षेत्र में शिविर लगाकर दवाएं वितरित कर रही हैं। प्रभावित क्षेत्रों में नजर रखी जा रही है।

संक्रमण से बचने के लिए जीवन रक्षक डोज जरूरी है। इसके प्रति लोगों को जागरूक करने की कवायद तेज है। बुधवार को जिले में 68 केंद्रों पर ‘मेरा टीका, मेरा अधिकार’ मुहिम के तहत सैकड़ों नागरिकों को वैक्सीन लगाई गई। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में शिविर लगाकर वैक्सीन की पहली डोज के लिए रजिस्ट्रेशन कराया गया।

साढ़े सात लाख से ज्यादा लोगों को अब तक वैक्सीन लग चुकी है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. अर्चना श्रीवास्तव के अनुसार 50 शैया सहित अन्य स्वास्थ्य केंद्रों पर ‘मेरा टीका, मेरा अधिकार’ मुहिम के तहत वैक्सीनेशन का कार्य कराया जा रहा है। लोगों को जागरूक करने के लिए स्वास्थ्य टीमें सक्रिय हैं। किसी भी सूरत में लक्ष्य के सापेक्ष कार्य किया जाना है। ग्रामीण क्षेत्रों में जोर ज्यादा है। शिविर व कार्यशाला के जरिये लोगों को मुहिम से जोड़ा जा रहा है। वैक्सीनेशन की कवायद को तेज करने के लिए स्वास्थ्य केंद्रों की संख्या बढ़ाई जाएगी। वैक्सीन के प्रति लोगों में उत्साह भी बढ़ा है।