burn to death

मेरी जेब में चवन्नी भी नहीं

नई दिल्ली: फिल्म 100 करोड़ से अधिक कमा चुकी है। लेकिन फिल्म के डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री का कहना है कि इस फिल्म से उन्हें अब तक चवन्नी भी नहीं मिली है, उल्टा उनकी जेब से पैसा गया है। फिल्म ने बेशक अच्छी कमाई की हो, लेकिन फिलहाल उन्हें इसका पैसा नहीं मिला है। विवेक का कहना है कि ये बहुत लंबी प्रोसेस है और आते-आते बहुत थोड़ा ही पैसा बच पाता है।

आरजे रौनक के साथ बातचीत में विवेक अग्निहोत्री ने कई मुद्दों पर बात की। विवेक का कहना है सरकार मंदिर का घंटा है, जिसे कोई भी बजाकर जा सकता है। दुनिया में सबसे कमजोर सरकार ही होती है। लेकिन बात सिस्टम की है, जो गेम के रूल सेट करता है। बॉलीवुड सिस्टम है और गेम के रूल सेट करता है। मुझे इस सिस्टम को तोड़ना है। सरकार किसी की भी हो, जब तक सिस्टम नहीं बदलता इस देश का सौ साल में भी कुछ नहीं होने वाला। मेरी लड़ाई इस सिस्टम से है और मैं अपनी फिल्मों के जरिए फिल्मों के जरिए उस सिस्टम को चैलेंज कर रहा हूं।

अक्षय कुमार ने मजबूरी में की फिल्म की तारीफ

जब उनसे बोला गया कि बॉलीवुड के कई लोगों ने आपकी फिल्म की तारीफ की है, जिनमें अक्षय कुमार शामिल हैं। इसपर विवेक ने कहा,”मजबूरी में क्या बोलेगा आदमी, जब 100 लोग सामने खड़े होकर पूछेंगे कि आपकी फिल्म नहीं चली और कश्मीर फाइल्स चल गई, तो ऐसे में इंसान क्या बोलेगा?”

करण जौहर के साथ काम नहीं करेंगे विवेक

See also  मलाइका ने बोल्ड ड्रेस पहनकर किया रैंप वॉक

विवेक अग्निहोत्री से पूछा गया कि वो किस बॉलीवुड स्टार के साथ काम करना चाहते हैं? इस पर उन्होंने कहा कि वो अमिताभ बच्चन के साथ काम करना चाहते हैं और जिसके साथ वो काम नहीं करना चाहते वो हैं करण जौहर। डायरेक्टर ने कहा कि वो करण जौहर के साथ कभी काम नहीं करेंगे।

मोदी जी की ये बात नहीं पसंद

विवेक ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री मोदी की लंबी दाढ़ी नहीं पसंद है, उनपर ट्रिम दाढ़ी अच्छी लगती है। उनका कहना है कि लंबी दाढ़ी में पीएम मोदी प्रधानंत्री कम कवि ज्यादा लगते हैं। वहीं राहुल गांधी को लेकर विवेक ने कहा कि उन्हें राहुल का सेंस ऑफ ह्यूमर पसंद है।