UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 9:25 PM

आइआइटी रूड़की भागलपुर में…

भागलपुर। ट्रिपल आइटी भागलपुर के सहयोग से आइआइटी रूड़की जल्द भागलपुर में अपना रीजनल सेंटर खोलेगा। इसकी कवायद शुरू कर दी गई है। इसे लेकर निदेशक स्तर से बातचीत भी हो रही है। दोनों संस्थानों के बीच इस लेकर जल्द ही मेमोरेंडम आफ स्टैंड‍िंग (एमओयू) की तैयारी चल रही है। रीजनल सेंटर खोलने के बाद आइआइटी रूड़की की योजना हैंडलूम से जुड़े स्टार्टअप को बढ़ावा देने, स्मार्ट सिटी और हेल्थ केयर के लिए बेहतर कार्य करने की है।

25 अक्टूबर को दोनों संस्थानों के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर होने की बात चल रही है। आइआइटी रूड़की ‘आइ हब’ नाम से रीजनल सेंटर खोलेगी। इस संस्थान का भागलपुर में सेंटर खोलने का उद्देश्य स्किल डेवलपमेंट, स्टार्ट अप, बड़े उद्योग समेत अन्य बड़ी योजनाओं पर काम करेगी। इस दिशा में दोनों संस्थानों के बीच काफी पहले से बातचीत चल रही थी। एक समझौते के तहत दोनों संस्थानों के बीच करार हो। इससे दोनों संस्थानों के विद्यार्थियों को और प्रोजेक्ट का मदद मिलेगी।

एमओयू पर हस्ताक्षर होने के बाद आइआइटी रूड़की की एक टीम ट्रिपल आइटी आएगी। वे लोग ही यहां के सेंटर को अत्याधुनिक बनाने को लेकर कार्य करेंगे। भागलपुर के रीजनल सेंटर को आइआइटी रूड़की बेहतरीन सेंटर बनाना चाहती है। इस सेंटर के खुलने के बाद विद्यार्थियों को नए-नए स्टार्टअप में काफी मदद मिलेगी। उन्हें निवेश का भी कई आप्शन दिया जाएगा। जिले में विभिन्न क्षेत्रों में संभावनाओं को देखते हुए ही सेंटर खोलने को लेकर बात आगे बढ़ी है। इस लेकर संस्थान में तैयारी शुरू हो गई है।

 

ट्रिपल आइटी भागलपुर के चार छात्रों का चयन एमएक्यू साफ्टवेयर कंपनी में हुआ है। इसमें मध्य प्रदेश के शुभ अग्रवाल, उत्तरप्रदेश के हर्षित शुक्ला, पटना के आर्यन पटेल और उत्तरप्रदेश के हर्ष जैन शामिल हैं। ये सभी छात्र कंप्यूटर साइंस विभाग के हैं। कंपनी ने चारों छात्रों को नौ लाख रुपये सालाना पैकेज के लिए चुना है। ये चारों छात्र (सत्र : 2018-22) के हैं। इस बैच में कुल 90 विद्यार्थी हैं, जिसमें अब तक 54 छात्रों का अलग-अलग कंपनियों के लिए चयन हुआ है।