हाई स्कूल व इंटर की बोर्ड परीक्षा में जिलों में हेल्प डेस्क खोलने की पहल

भदोही । डेस्क पर विषय विशेषज्ञ शिक्षक मौजूद रहेंगे। इसके लिए उन शिक्षकों का मोबाइल नंबर भी जारी किया जाएगा। ताकि छात्र कोई सवाल पूछे तो उसका उसे जवाब मिल जाए। डेस्क के लिए एक नोडल अधिकारी का भी चयन किया गया है। वह डेस्क पर होने वाले कार्यों की निगरानी करेंगे। कोरोना संक्रमण के कारण इस सत्र में भी छात्रों की पढ़ाई बाधित हुई है। वहीं विधानसभा चुनाव के कारण विद्यालयों में पठन-पाठन का माहौल नहीं बन पाया है। ऐसे में हेल्प डेस्क के जरिए छात्रों की मदद की जाएगी। उन्हें अपने विषय की तैयारी के लिए यहां से मदद मिलेगी। हाई स्कूल और इंटर के छात्रों की विषयवार समस्याएं सुलझाने के लिए शिक्षकों का चयन किया जा रहा है। हाईस्कूल के छात्रों के लिए बनी हेल्प डेस्क पर एक विषय के तीन शिक्षक रहेंगे। वहीं इंटर के छात्रों के लिए गणित, विज्ञान और कला वर्ग को विषयवार एक-एक डेस्क रहेगी। छात्र अपने रुचिकर विषय के बारे में अपने विषय की डेस्क पर फोन कर सकें।

इस बार हाई स्कूल व इंटर में 90 केंद्रों पर 50 हजार छात्र परीक्षा देंगे। परीक्षार्थियों को किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए उनकी अभी से छोटी मोटी दिक्कतों को दूर करने तैयारी है। परीक्षा के लिए अभी तिथि तय नहीं है।

हेल्प डेस्क के लिए विषयवार शिक्षकों की सूची तैयार की जा रही है। सोमवार से डेस्क शुरू होने की संभावना है। जिले के प्रमुख और नामचीन इंटर कालेज के शिक्षक इसके लिए चयनित किए गए हैं। शिक्षकों को हिदायत भी रहेगी कि वह छात्रों की जिज्ञासा शांत होने तक उनसे संपर्क बनाए रखें। किसी डेस्क से शिकायत आने पर कार्रवाई की जाएगी। बोर्ड के निर्देश पर हेल्पडेस्क बनाने की तैयारी शुरू है। सोमवार से यह डेस्क काम करने लगेगी। इन डेस्कों पर शिक्षकों के चयन की प्रक्रिया निर्धारित समय में पूरी कर ली जाएगी।

See also  बिजली विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया