Main

Today's Paper

Today's Paper

पाकिस्तान से अफगानिस्तान ने अपने राजनयिकों को वापस बुलाया

AFGAN W POK

इस्लामाबाद. पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच राजनयिक संकट गहरा गया है. अफगानिस्तान ने इस्लामाबाद से अपने राजदूत और सभी राजनयिकों को वापस बुला लिया है. ये कदम राजदूत की बेटी के कथित अपहरण के बाद लिया गया. बता दें कि पाकिस्तान में अफगानिस्तान के राजदूत नजीबुल्लाह अलीखिल की 26 साल की बेटी सिलसिला अलीखिल का शुक्रवार को इस्लामाबाद में अज्ञात लोगों ने अपहरण कर लिया. उन्हें प्रताड़ित किया गया और साथ ही उसके साथ मारपीट की गई.

सिलसिला अलीखिल को उस वक्त अगवा किया गया जब वो किराये की गाड़ी से कहीं जा रही थीं. रिहा करने से पहले उन्हें कई घंटे बंधक बनाए रखा गया. बाद में अलीखिल राजधानी के एफ-9 पार्क इलाके में मिलीं. उनके शरीर पर चोट के कई निशान थे.

अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘पाकिस्तान में अफगान राजदूत की बेटी के अपहरण के बाद, अफगानिस्तान इस्लामी गणराज्य के नेतृत्व ने अफगानिस्तान के राजदूत और वरिष्ठ राजनयिकों को पाकिस्तान से तब तक के लिए वापस बुला लिया, जब तक कि अपहरण के दोषियों की गिरफ्तारी और उन पर मुकदमा चलाने सहित सभी सुरक्षा खतरों को समाधान नहीं किया जाता.’

उसने कहा कि एक अफगान प्रतिनिधिमंडल जल्द ही मामले और 'सभी संबंधित मुद्दों' का आकलन और आगे के कदम के लिए पाकिस्तान का दौरा करेगा. बयान में कहा गया है कि ‘निष्कर्षों के आधार पर आगे का कदम उठाया जाएगा.’

इस बीच, पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद ने  कहा कि राजदूत की बेटी का अपहरण नहीं किया गया था. उन्होंने कहा, 'वह अपनी मर्जी से रावलपिंडी गई थीं..हमारे पास सीसीटीवी फुटेज हैं.’
बता दें कि एक दिन पहले दराशिद ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि पुलिस ने अपहरण और प्रताड़ना मामले में FIR दर्ज कर ली है. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि अपहरण से पहले उन्हें अलग-अलग जगहों पर ले जाने वाले टैक्सी चालकों से पूछताछ की गई है और असली अपहरणकर्ताओं को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Share this story