Main

Today's Paper

Today's Paper

अमेरिका को देगा टक्कर रूस का चेकमेट

CHEKDEM

मास्को. रूस के विमान निर्माता सुखोई  ने मंगलवार को अपने नए लड़ाकू विमान का शुरुआती मॉडल दुनिया के सामने रखा. यह विमान स्टील्थ (दुश्मन के रडार की नजर में न आने) की क्षमता और अन्य अत्याधुनिक विशेषताओं से युक्त है.इस युद्धक विमान को ‘चेकमेट’ नाम दिया गया है.

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन नेइंटरनेशनल एविएशन एंड स्पेस सैलून में इस विमान का निरीक्षण किया और इस मौके पर उन्होंने देश की हवाई शक्ति की सराहना की. 2023 में अपनी पहली उड़ान भरेगा और 2026 में इसके पहले बैच का उत्पादन होगा. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक यह पांचवी पीढ़ी का फ़ाइटर जेट है, जिसे एक एयरशो में पेश किया गया.

पुतिन के शासन के अंतर्गत रूस ने अपने स्वयं के सशस्त्र बलों के लिए और हथियारों की बिक्री से निर्यात राजस्व को बढ़ावा देने के लिए, सैन्य विमानों और नए हथियारों में भारी निवेश किया है. इसके कई नए हथियार अभी भी शीत युद्ध से सोवियत युग की तकनीक पर आधारित हैं. नया विमान रूस के नए 2 इंजन वाले सुखोई-57 स्टील्थ लड़ाकू विमान से छोटा है और इसमें सिर्फ एक इंजन है.

यूनाइटेड एयरक्राफ़्ट कॉर्पोरेशन के प्रमुख यूरी स्लाइयूसर ने पत्रकारों से बताया कि अगले 15 वर्षों में रूस की ऐसे 300 फ़ाइटर जेट बनाने की योजना है. इसे अमेरिका के सबसे आधुनिक F-35 विमानों के जवाब के तौर पर देखा जा रहा है. रूस की सरकारी एयरोस्पेस और डिफेंस कंपनी रूस्टेक का कहना है कि दुश्मन के लिए इस प्लेन को ढूंढ पाना आसान नहीं होगा और इसे चलाने की कीमत (ऑपरेटिंग कॉस्ट) भी कम होगी.
 

Share this story